नई दिल्ली, जेएनएन। कभी-कभी कोई खास खिलाड़ी किसी टीम से जुड़ता है तो उस टीम की किस्मत भी बदल जाती है। इस बार आइपीएल में कुछ इसी तरह का संयोग वेंकटेश अय्यर और कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के बीच देखने को मिला है। केकेआर की टीम मौजूदा सत्र के भारत में खेले गए पहले चरण में सात मैचों में दो जीत और पांच हार के साथ सातवें पायदान पर थी और उसका प्लेआफ में पहुंचना बेहद मुश्किल नजर आ रहा था, लेकिन वेंकटेश अय्यर को जैसे ही मौका मिला तो टीम की किस्मत बदल गई।

केकेआर ने पहले चरण के अपने सात मैचों में वेंकटेश अय्यर को एक भी मैच में नहीं खिलाया गया था। ऐसे में जब दूसरा चरण यूएई में शुरू हुआ तो केकेआर ने 20 लाख रुपये के आधार मूल्य की राशि में खरीदे गए वेंकटेश को अपने हर मैच में खिलाया। नतीजा यह रहा कि वेंकटेश ने तो शानदार प्रदर्शन किया ही, केकेआर की भी किस्मत बदल गई और यूएई चरण में उसने सात मैच में से पांच जीतकर प्लेआफ में जगह बनाई। सिर्फ प्लेआफ में ही जगह नहीं बनाई, बल्कि कोलकाता ने आइपीएल 2021 के फाइनल तक का रास्ता तय कर लिया है।

आइपीएल 2021 के प्लेआफ में भले ही बेहतर नेट रन रेट के कारण कोलकाता ने क्वालीफाइ किया हो, लेकिन इसके बाद टीम ने दिखा दिया कि टीम इसकी हकदार थी। एलिमिनेटर मैच में भी रायल चैलेंजर्स बैंगलोर को केकेआर ने करीबी मैच में हराया और अब बुधवार को शारजाह में खेले गए दूसरे क्वालीफायर मैच में दिल्ली कैपिटल्स को तीन विकेट से हराकर यूएई चरण में नौ मैचों में अपनी सातवीं जीत दर्ज की और फाइनल में प्रवेश किया, जहां टीम का सामना चेन्नई सुपर किंग्स से 15 अक्टूबर को होगा। 

इस मुकाबले में वेंकटेश अय्यर ने 41 गेंदों पर चार चौकों व तीन छक्कों की मदद से 55 रन बनाए। हालांकि, अंतिम समय में केकेआर के सात रन में छह विकेट गिरने से मैच दिल्ली की झोली में जाता नजर आ रहा था, लेकिन राहुल त्रिपाठी ने अंतिम ओवर की पांचवीं गेंद पर छक्का जड़कर केकेआर को फाइनल में पहुंचा दिया। लो स्कोरिंग मैच में एक समय कोलकाता की जीत आसान लग रही थी, लेकिन दिल्ली को लगातार विकेट मिलते गए और मैच आखिरी ओवर तक चला गया। 

वेंकटेश अय्यर की बात करें तो वे आइपीएल 2021 में सबसे ज्यादा रन बनाने वालों की लिस्ट में 17वें नंबर पर हैं, क्योंकि उन्होंने सिर्फ 9 मैच खेले हैं। इन 9 मैचों में 1 बार नाबाद रहते हुए उन्होंने कुल 320 रन बनाए हैं, जिसमें उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 67 रन है। भले ही 125 के स्ट्राइकरेट से उन्होंने रन बनाए, लेकिन ये रन केकेआर के लिए काफी महत्वपूर्ण रहे हैं। तीन अर्धशतक भी वे इस सीजन में जड़ चुके हैं।  

Edited By: Vikash Gaur