दिल्ली, जेएनएन। आइपीएल 2019 का रोमांचक फाइनल मुकाबला चेन्नई सुपर किंग्स और मुंबई इंडियंस के बीच खेला गया। जिसमें मुंबई इंडियंस ने एक रन से जीत हासिल की। इस तरह मुंबई इंडियंस चार आइपीएल ख़िताब जीतने वाली पहली टीम बन गई। वहीं, कप्तान रोहित शर्मा भी चार बार अपनी कप्तानी में मुंबई इंडियंस को विजेता बनाने वाले आइपीएल के सबसे सफल कप्तान बन गए।

मैच में मुंबई के स्टार तेज़ गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की घातक गेंदबाजी ने चेन्नई के बल्लेबाजों को रोके रखा। बुमराह ने 4 ओवर में सिर्फ 14 रन देकर दो विकेट चटकाए। बुमराह की शानदार गेंदबाजी के दम पर मुंबई इंडियंस ने आइपीएल 2019 के फाइनल मैच में चेन्नई सुपर किंग्स को सिर्फ एक रन के अंतर से हराया और चौथी बार खिताब अपने नाम किया।

IPL 2019: मुंबई की जीत के बाद पत्नी रितिका ने लिया रोहित का मजेदार इंटरव्यू, VIDEO वायरल 

बुमराह को उनकी जबरदस्त गेंदबाजी के लिए 'मैन ऑफ द मैच' अवॉर्ड दिया गया। बुमराह ने कहा, " मैं बहुत खुश हूं। मैं जानता था कि फाइनल मुकाबला करीबी हो जाता है और इसलिए मैं शांत रहा। मुंबई के लिए चौथा खिताब जीतकर मैं बेहद खुश हूं। खासकर आज मैं इतना शांत रहकर खुद हैरान था। मैं घबराया नहीं और सिर्फ अगली गेंद पर फोकस किया। ज्यादा दबाव में आ जाने से कभी कुछ हासिल नहीं होता है इसलिए मैं खुद पर भरोसा रखता हूं।"

प्रजेंटेशन के बाद जहीर खान ने जसप्रीत बुमराह से खास बातचीत की। उन्होंने पूछा कि वह कैसे ऐसी गेंदबाजी कर लेते हैं। जिसके जवाब में बुमराह ने कहा, " मैं हमेशा शांत रहने की कोशिश करता हूं। टीम में मौजूद सभी दिग्गज खिलाड़ियों से सीखता हूं और उसे मैदान पर इस्तेमाल करने की कोशिश करता हूं। गेंदबाजी को ज्यादा से ज्यादा सामान्य रखता हूं।"  

जहीर ने पूछा कि धौनी के खिलाफ इन-स्विंगर करके कैसा लगा। बुमराह ने कहा, "टूर्नामेंट की शुरुआत से जहीर इन-स्विंगर कराने के लिए मेरे पीछे पड़े हैं। मैंने बताया कि मैं अकसर करता हूं लेकिन वह चाहते हैं कि मैं लगातार इन-स्विंगर का इस्तेमाल करूं। जो आज मैंने किया और आप देख सकते हैं कि जहीर खुश हैं।"

जहीर ने आखिर में बुमराह को भविष्य के लिए ढेर सारी शुभकामनाएं देते हुए कहा, " आप इसी तरह कमाल का खेलते रहें। आपके पास एक खास हुनर है। मुझे उम्मीद है कि आप बतौर गेंदबाज आगे बढ़ते जाएं और खेल को ज्यादा से ज्यादा समझें। भविष्य के मैचों के लिए आपको शुभकामनाएं।" 

 IPL Final 2019 MI vs CSK: धौनी ने कहा, एक दूसरे को चैंपियन बनाना चाहते थे मुंबई और चेन्नई

जसप्रीत बुमराह के अलावा एक और गेंदबाज जो मुंबई के लिए गेम चेंजर साबित हुआ वह थे लसिथ मलिंगा। हालांकि पूरे मैच में मलिंगा कुल 49 रन देकर काफी महंगे जरूर साबित हुए लेकिन उनके एक ओवर ने मैच पलट दिया। चेन्नई को आखिरी ओवर में जीत के लिए कुल 9 रन चाहिए थे और मलिंगा ने अपने ओवर में 7 रन दिए। साथ ही आखिरी ओवर में दो विकेट भी गिरे। ओवर की चौथी गेंद पर वॉटसन रनआउट हुए और उसके बाद आखिरी गेंद पर शार्दुल ठाकुर एलबीडब्लयू आउट हो गए।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Ruhee Parvez