नई दिल्ली, आइएएनएस। दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ यानी डीडीसीए के चुनावों के परिणाम सामने आ गए है। एक बार फिर से दिवंगत केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली के बेटे रोहन जेटली को डीडीसीए का अध्यक्ष चुना गया है। डीडीसीए के चुनावों में रोहन जेटली ने बड़ी जीत हासिल की है और लगातार दूसरी बार इस पद को हासिल किया है। हालांकि, इस बार डीडीसीए का सचिव बदला जाएगा, क्योंकि इन चुनावों में सिद्धार्थ वर्मा ने जीत हासिल की है।

डीडीसीए के अध्यक्ष पद के लिए रोहन जेटली ने वरिष्ठ अधिवक्ता विकास सिंह को हराया है और संघ के मुख्य पद को फिर से प्राप्त किया है। डीडीसीए चुनाव परिणामों में सामने आया कि रोहन जेटली को 1658 वोट मिले, जबकि विकास सिंह को सिर्फ 662 वोट मिले। इस तरह रोहन जेटली की इसे विशाल जीत कहा जा रहा है। उधर, दिल्ली के पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय साहिब सिंह वर्मा के सबसे छोटे बेटे सिद्धार्थ वर्मा ने विनोद तिहारा को हराकर सचिव पद हासिल किया।

सिद्धार्थ वर्मा को डीडीसीए के चुनाव में 1322 वोट मिले, जबकि तिहारा को 704 वोट मिले। इस तरह सिद्धार्थ वर्मा की डीडीसीए के सचिव पद पर एकतरफा जीत हुई है। जानकारी के मुताबिक बीसीसीआइ के पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष सीके खन्ना की पत्नी शशि खन्ना ने भी उपाध्यक्ष पद को बरकरार रखा है। उन्हें 1264 वोट मिले हैं। वहीं, पूर्व क्रिकेटर और मौजूदा भाजपा सांसद गौतम गंभीर के मामा पवन गुलाटी कोषाध्यक्ष चुने गए हैं। उन्हें 1664 वोट मिले हैं।

Edited By: Vikash Gaur