नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। एम चिन्नास्वामी स्टेडियम बैंगलुरु में खेले जा रहे रणजी ट्राफी 2021-22 के फाइनल मुकाबले में मध्य प्रदेश की टीम को चैंपियन बनने के लिए केवल 108 रनों का लक्ष्य मिला है। मुंबई की टीम दूसरी पारी में केवल 269 रन बनाकर आल आउट हो गई है। दूसरी पारी में मध्य प्रदेश के गेंदबाजों के सामने मुंबई की एक न चली और पूरी टीम लंच तक 269 रन बनाकर आल आउट हो गई।

मध्य प्रदेश के गेंदबाजों का दिखा दम

इससे पहले मुंबई ने 5वें दिन 2 विकेट खोकर 113 रन से आगे खेलना शुरू किया। अरमान जाफर 30 और सुवेद पारकर 9 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद थे लेकिन पहला सेशन पूरी तरह से एमपी के गेंदबाजों के नाम रहा। स्कोर में 26 रन ही जुड़े थे कि अरमान जाफर 37 रन बनाकर आउट हो गए।

उसके बाद सरफराज खान के 45 रनों के अलावा कोई भी मुंबई का बल्लेबाज टिक नहीं पाया और मुंबई ने लगातार अंतराल पर विकेट गंवाए। एमपी की तरफ से कुमार कार्तिकेय ने 4 जबकि गौरव यादव और पार्थ साहनी ने 2-2 विकेट लेकर मुंबई की दूसरी पारी 269 रनों पर रोक दी।

दूसरी पारी में फेल हुए मुंबई के बल्लेबाज

पहली पारी की बात करें तो मुंबई ने 374 रन बनाए थे। मुंबई की तरफ से सरफराज खान ने 134, यशस्वी जायसवाल ने 78 और कप्तान पृथ्वी शा ने 47 रनों की पारी खेली थी। लेकिन दूसरी पारी में सुवेद पारकर के 51 के अलावा सरफराज ने 45 जबकि पृथ्वी ने 44 रन की पारी खेली। यशस्वी केवल 1 रन बनाकर आउट हुए। 

Edited By: Sameer Thakur