नई दिल्ली, जेएनएन। Pragyan Ojha Retirement: भारतीय टीम के स्पिन गेंदबाज प्रज्ञान ओझा ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट और फर्स्ट क्लास क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया है। महज 33 साल की उम्र में प्रज्ञान ओझा ने क्रिकेट को अलविदा कहने का मन बनाया है। इस बात की पुष्टि खुद प्रज्ञान ओझा ने अपने ट्विटर अकाउंट पर की है कि वे क्रिकेट के तीनों प्रारूपों से विदाई ले रहे हैं।  

भुवनेश्वर के रहने वाले प्रज्ञान ओझा ने अपने ट्विटर अकाउंट पर दो पेजों का पत्र लिखा है, जिसमें अपनी टीम के पूर्व कप्तान और साथियों का धन्यवाद किया है। वहीं, इस लेटर के कैप्शन में ओझा ने लिखा है, "अब जीवन के अगले पड़ाव के लिए आगे बढ़ने का समय आ गया है। प्यार और समर्थन देने वाला हर एक शख्स का मुझे हमेशा याद रहेगा और मुझे इससे हमेशा मोटिवेशन मिलेगा।"

प्रज्ञान ओझा ने 2008 में भारत की वनडे टीम में डेब्यू किया था। इसके बाद से साल 2013 तक उन्होंने तीनों फॉर्मेट के मैचों में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व किया। 24 टेस्ट, 18 वनडे और 6 टी20 इंटरनेशनल मैचों के लिए 92 आइपीएल मैच खेलने वाले प्रज्ञान ओझा को 7 साल से टीम में नहीं चुना गया है। ऐसे में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को उन्होंने अलविदा कहना उचित समझा है। ऐसे में वे कोचिंग के साथ-साथ कॉमेंट्री में भी हाथ आजमा सकते हैं।

24 टेस्ट मैचों में प्रज्ञान ओझा ने 113 विकेट अपने नाम किए हैं, जिसमें 7 बार विकेट और एक बार 10 विकेट उन्होंने एक मैच में चटकाए हैं। इसके अलावा 18 वनडे इंटरनेशनल मैचों में ओझा ने 21 बल्लेबाजों को पवेलियन भेजा है, जबकि 6 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में प्रज्ञान ओझा ने 10 विकेट चटकाए हैं। बल्लेबाज के तौर पर उनके नाम टेस्ट मैच में 89 रन, वनडे में 46 और टी20 में 10 रन दर्ज हैं।

Posted By: Vikash Gaur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस