अभिषेक त्रिपाठी, नई दिल्ली। पाकिस्तानी क्रिकेट टीम को अगले महीने भारत में होने वाले ब्लाइंड विश्व कप के लिए अबतक वीजा नहीं मिला है जिस कारण आयोजक परेशान हैं। भारतीय ब्लाइंड क्रिकेट संघ (सीएबीआइ) पांच से 17 दिसंबर तक तीसरे ब्लाइंड टी-20 विश्व कप की मेजबानी करेगा। इस टूर्नामेंट में भारत के अलावा आस्ट्रेलिया, बांग्लादेश, नेपाल, पाकिस्तान, दक्षिण अफ्रीका और श्रीलंका की टीमों को हिस्सा लेना है।

इस वैश्विक टूर्नामेंट में शामिल होने के लिए टीमों को चार दिसंबर तक यहां पहुंचना है, लेकिन पाकिस्तानी टीम को विदेश मंत्रालय और गृह मंत्रालय से अबतक इसके लिए अनुमति और वीजा नहीं मिला है। हालांकि, आयोजकों ने विदेश और गृह मंत्रालय से इसके लिए गुहार लगाई है, जबकि पाकिस्तान भी अपने स्तर पर वीजा पाने के लिए पूरी कोशिश कर रहा है। इस टूर्नामेंट को होने में अब ज्यादा समय शेष नहीं रह गया है, ऐसे में आयोजकों के लिए पाकिस्तान को अबतक वीजा नहीं मिलना परेशानी का कारण बन गया है।

आयोजकों के मन में सवाल है कि अगर पाकिस्तान को वीजा नहीं मिला तो इस वैश्विक टूर्नामेंट को किस तरह कराया जाएगा। भारत ने 2012 और 2017 में इस टूर्नामेंट का खिताब जीता था और उसकी नजरें अपने घरेलू मैदान पर खिताबी हैट्रिक जमाने पर टिकी हुई हैं। भारत ने दोनों ही बार फाइनल में पाकिस्तान को हराकर ट्राफी अपने नाम की थी। इससे इस बात का अंदाजा लगाया जा सकता है कि भारत और पाकिस्तान की प्रतिद्वंद्विता कितनी कड़ी रही है। मालूम हो कि भारत और पाकिस्तान की टीमों के बीच द्विपक्षीय सीरीज 2012 से ही बंद है और दोनों ही टीमें अब सिर्फ आइसीसी या बड़े टूर्नामेंटों में ही एक दूसरे के विरुद्ध खेलती हैं।

भारत-पाक में रहता है कड़ा मुकाबला : ब्लाइंड क्रिकेट के अलावा भी बात करें तो भारत और पाकिस्तान की टीमों के बीच मुकाबला कड़ा रहता है और दोनों देशों के प्रशंसक मुकाबले का इंतजार करते हैं। हाल ही में आस्ट्रेलिया में संपन्न हुए आइसीसी टी-20 विश्व कप में भी भारत और पाकिस्तान का मैच हुआ था, जहां भारत ने अपनी चिर प्रतिद्वंद्वी टीम को हराया था। विश्व कप से पहले इस साल दोनों टीमों के बीच यूएई में एशिया कप में दो मैच हुए थे, जहां भारत और पाकिस्तान ने एक-एक मैच जीते थे।

जय शाह के बयान से हुआ था विवाद : यह पहली बार नहीं जब पाकिस्तानी टीम को लेकर कोई विवाद पैदा हुआ है। हाल ही में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआइ) के सचिव जय शाह ने कहा था कि अगर 2023 एशिया कप पाकिस्तान में होता है तो भारत इसमें हिस्सा नहीं लेगा। उनके इस बयान पर काफी विवाद हुआ था और पाकिस्तान ने इस पर तीखी प्रतिक्रिया दी थी।

Edited By: Sanjay Savern

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट