नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। जसप्रीत बुमराह की चोट के बाद बीसीसीआइ ने आस्ट्रेलिया में होने वाले टी-20 विश्व कप में दो अतिरिक्त तेज गेंदबाज बैकअप के तौर पर भेजने का निर्णय किया है। दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध टीम में शामिल किए गए मोहम्मद सिराज और तूफानी तेज गेंदबाज उमरान मलिक छह अक्टूबर को भारतीय दल के साथ पर्थ के लिए उड़ान भरेंगे। यहां टीम करीब एक सप्ताह शिविर में अभ्यास करेगी और पश्चिम आस्ट्रेलिया के साथ अभ्यास मैच खेलेगी।

इसके बाद टीम 17 अक्टूबर को ब्रिसबेन में विश्व कप का पहला आधिकारिक अभ्यास मैच खेलेगी। बीसीसीआइ ने अभी तक बुमराह के आस्ट्रेलिया नहीं जाने पर कोई आधिकारिक जानकारी नहीं दी है। बीसीसीआइ अध्यक्ष सौरव गांगुली ने जरूर कहा है कि बुमराह को लेकर उम्मीद बरकरार रखनी चाहिए। हालांकि हकीकत, ख्वाब से कोसों दूर है। सूत्रों के मुताबिक बोर्ड चाहता है कि बुमराह विश्व कप के कुछ मैचों बाद तक भी फिट हो जाएं तो उन्हें टीम के साथ ले जाया जाए लेकिन इतने बड़े टूर्नामेंट में अनफिट खिलाड़ी को साथ ले जाना दोधारी तलवार से कम नहीं होगा।

विश्व कप टीम के चार सदस्य (सूर्यकुमार यादव, दीपक हुड्डा, अर्शदीप सिंह और हर्षल पटेल) आस्ट्रेलिया में पहले नहीं खेले हैं, जबकि पांचवें सदस्य दिनेश कार्तिक ने आस्ट्रेलिया में केवल एक मैच खेला है। उन्होंने 15 साल से अधिक समय पहले मेलबर्न में एक टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेला था। इस शिविर से उन्हें फायदा होगा। यह शिविर दो रिजर्व खिलाडि़यों रवि बिश्नोई और दीपक चाहर को भी मदद करेगा, जिन्होंने आस्ट्रेलिया में कभी नहीं खेला। उन्हें जल्दी से परिस्थितियों के अनुकूल होने और मैच के लिए तैयार रहना होगा क्योंकि जरूरत पड़ने पर उन्हें बुलाया जा सकता है।

भारत चोटिल हुड्डा और जसप्रीत बुमराह के स्वस्थ्य होने का इंतजार कर रहा है। दोनों ही खिलाड़ी इस समय राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) में अपनी पीठ की चोटों को ठीक करा रहे हैं। ऐसा समझा जा रहा है कि बुमराह का एनसीए में स्कैन किया गया है। वहीं दूसरी तरफ भारत काफी बड़ी तैयारी के बाद विश्व कप में पहुंचने वाला है। वे पिछले तीन महीनों से व्यस्त हैं। आयरलैंड, इंग्लैंड, कैरेबियन, एशिया कप के लिए यूएई में टी-20 खेलने के बाद अब घरेलू धरती पर आस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध टी-20 सीरीज खेल रहे हैं।

Edited By: Sanjay Savern

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट