नई दिल्ली, जेएनएन। पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली और अनुराग ठाकुर के भाई अरुण सिंह धूमल भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआइ) में बड़ी भूमिकाओं में होंगे। 

यह सब शनिवार को दिल्ली और रविवार को मुंबई में होने वाली अनौपचारिक बैठक में तय होगा। शनिवार को दिल्ली में होने वाली बैठक में पूर्व बीसीसीआइ अध्यक्ष अनुराग ठाकुर, पूर्व आइसीसी चेयरमैन एन. श्रीनिवासन, पूर्व आइपीएल चेयरमैन राजीव शुक्ला और जय शाह के अलावा गांगुली के भी भाग लेने की संभावना है। इसके बाद रविवार को मुंबई में सभी राज्य संघों की बैठक होगी जिसमें शनिवार के निर्णय को बताकर उसमें सहमति ली जाएगी। हाल ही में गुजरात क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष का पद संभालने वाले जय शाह के भी बीसीसीआई में किसी प्रमुख पद को संभालने की संभावना है। 

चुनाव के आसार नहीं

शनिवार को होने वाली बैठक में ही बीसीसीआइ के अध्यक्ष, सचिव, संयुक्त सचिव, कोषाध्यक्ष और उपाध्यक्ष पद के लिए नामांकन करने वालों के नाम तय होंगे। ये तय है कि यह चुनाव सर्वसम्मति से होंगे और एक पद पर दो नामांकन की संभावना ना के बराबर है। नए अधिकारी बीसीसीआइ की 23 अक्टूबर को होने वाली सालाना आम बैठक के बाद अपने पद संभालेंगे। पूर्व बीसीसीआइ अध्यक्ष और मौजूदा सरकार में वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर की इस निर्णय में अहम भूमिका होगी।

वैसे इससे पहले शासक समिति के मुख्‍य सदस्‍य विनोद राय की अध्‍यक्षता में एक बैठक में बीसीसीआई के चुनाव को 22 अक्‍टूबर को कराने का ऐलान किया गया था। सभी राज्‍य क्रिकेट संघों को 23 सितंबर तक अपने प्रतिनिधियों के नाम बीसीसीआई को सौंपने को कहा गया है।

सौरव गांगुली दोबारा चुने गए हैं CAB के अध्यक्ष

हाल ही में पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली के बंगाल क्रिकेट असोसिएशन का अध्यक्ष चुना गया है। पहले से अध्यक्ष का पद संभाल रहे गांगुली को निर्विरोध इस पद पर दोबारा चुना गया। बतौर CAB अध्यक्ष गांगुली अगले साल जुलाई तक काम करेंगे, इसके बाद BCCI के संविधान के मुताबिक उन्हें ‘कूलिंग ऑफ पीरियड’ पर जाना होगा। 

 

Posted By: Vikash Gaur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप