ढाका, पीटीआइ। भारत और बांग्लादेश (India vs Bangladesh) के बीच खेली जाने वाली सीरीज खटाई में पड़ती दिख रही है। बांग्लादेश क्रिकेट टीम (Bangladesh cricket team) ने सैलरी बढ़ाने की मांग करते हुए किसी भी तरह से क्रिकेट में गतिविधी में भाग लेने से मना कर दिया है। टीम के सभी खिलाड़ी हड़ताल पर चले गए हैं और बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड से सैलरी बढ़ाने की मांग रखी है।

बांग्लादेश क्रिकेट टीम का भारत दौरा मुश्किल में घिरता नजर आ रहा है। सोमवार को नेशनल टीम के सभी खिलाड़ियों ने हड़ताल पर जाना का फैसला किया। टीम के खिलाड़ियों ने बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड के सामने सैलरी बढ़ाने की मांग रखी है और फैसला नहीं आने तक किसी भी तरह की क्रिकेट गतिविधी से दूर रहने का फैसला लिया है।

सभी खिलाड़ियों ने किया खेलने से मना

यह बहिष्कार टीम के टॉप खिलाड़ियों द्वारा घोषित किया गया है। इसमें टेस्ट और टी20 टीम के कप्तान शाकिब अल हसन(Shakib Al Hassan), विकेटकीपर मुशफिकुर रहीम (Mushfiqur Rahim) और महमुदुल्लाह जैसे बड़े नाम शामिल है। एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए देश के 50 क्रिकेटर्स ने बोर्ड के खिलाफ अपनी मांग रखी। इस सभी ने मांग नहीं पूरी होने तक नेशनल क्रिकेट का बहिष्कार करने का फैसला लिया है।

टीम के ओपनर तमीम इकबाल (Tamim Iqbal) ने मीडिया के सामने अपनी बात रखी। प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान उन्होंने कहा, "हमें लोकल कोच, फीजियो और ग्राउंड स्टाफ का सम्मान करना चाहिए। उनके महीने के अंत में बहुत की कम सैलरी दी जाती है।"

बीसीसीआई ने किया कमेंट करने से मना 

इस मामले में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने फिलहाल तो कुछ भी कदम उठाने से इनकार किया है। बीसीसीआई का कहना है कि यह बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड का अंदरूनी मामला है। जबकि कि हमें उनकी तरफ से कोई जानकारी नहीं दी जाती है हमारी तरफ से इस मामले पर कोई भी कमेंट करना नहीं बनता। 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस