जागरण संवाददाता, मेरठ। बागपत रोड स्थित मुलतान नगर में पूर्व क्रिकेटर प्रवीण कुमार ने सरेराह व्यापारी को पीटा। उनकी अंगुली तोड़ दी। आरोप है कि व्यापारी के बेटे को भी धक्का दिया। सड़क पर बच्चों को उतार रही बस से साइड नहीं मिलने पर कार सवार पीके आगबबूला हो गए थे। व्यापारी ने टीपीनगर थाने में तहरीर दी है। व्यापारी का मेडिकल कराने के बाद भी पुलिस ने मुकदमा दर्ज नहीं किया। वहीं, प्रवीण कुमार ने व्यापारी पर उनकी नाक तोड़ने का आरोप लगाया है।

मुल्ताननगर निवासी व्यापारी दीपक शर्मा का बेटा मेरठ पब्लिक स्कूल, वेदव्यासपुरी में पढ़ता है। स्कूल बस रोजाना की तरह शनिवार को यशवर्धन और अन्य बच्चों को छोड़ने मुल्ताननगर गई। दोपहर को दीपक अपने बेटे को लेने के लिए बागपत रोड स्थित पेट्रोल पंप के पास आए। बच्चे उतर रहे थे तभी टीम इंडिया के मध्यम तेज गेंदबाज रहे प्रवीण कुमार कार से वहां पहुंचे। रास्ते में स्कूल बस खड़ी होने के कारण प्रवीण कुमार बार-बार कार का हॉर्न बजाने लगे। स्कूल बस हटने में थोड़ी देर हो गई, जिस पर पीके बिगड़ गए।

पीडि़त दीपक के मुताबिक, पीके शराब के नशे में धुत थे। पीके स्कूल बस से साइड नहीं मिलने पर आपा खो बैठे। आरोप है कि पीके ने बाइक को धक्का दिया जिससे बेटे को भी चोट लग गई। हमले में दीपक शर्मा की अंगुली भी टूट गई। दीपक के शोर मचाने के बाद पीके वहां से निकल गए। टीपीनगर एसओ दिनेश चंद्र ने बताया कि दीपक का मेडिकल करा दिया गया है। उनकी तरफ से दी गई तहरीर पर जांच की जा रही है। जांच के लिए पीके के घर गए थे, वह घर पर नहीं मिले।

एसएसपी अजय साहनी  ने कहा कि दीपक शर्मा की तरफ से पूर्व क्रिकेटर प्रवीण कुमार पर मारपीट का आरोप लगाया गया। व्यापारी का मेडिकल करा दिया है। तहरीर के आधार पर मामले की जांच की जा रही है। रिपोर्ट आने के बाद कार्रवाई की जाएगी।

वहीं इस मामले में प्रवीण कुमार का कहना है कि कालोनी में मामूली बात को लेकर कहासुनी हो गई थी। दीपक ने मारपीट करते हुए मेरी नाक तोड़ दी। हम मामले को तूल नहीं देना चाह रहे हैं इसलिए थाने में कोई तहरीर नहीं दी है। हम आपस में ही मामले को निपटा लेंगे।

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस