मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

नई दिल्ली, अभिषेक त्रिपाठी। 06, 13, 38, 44, 09, 00, 02, 44, 02, 33*, 04, 00...ये आंकड़े विराट कोहली के दोस्त केएल राहुल के पिछली 12 टेस्ट पारियों के हैं। वह पिछले सात टेस्ट की 12 पारियों में एक भी अर्धशतक नहीं लगा पाए हैं और क्रिकेट के सबसे बड़े फॉर्मेट में उनकी पिछली बड़ी पारी 149 रनों की थी जो उन्होंने पिछले साल सितंबर में ओवल में इंग्लैंड के खिलाफ खेली थी। यही कारण है कि राहुल की उपयोगिता पर सवाल उठने लगे हैं।

लोकेश राहुल ने अपनी अंतिम 30 टेस्ट पारियों में सिर्फ 664 रन जुटाए हैं और इसमें उनका शानदार प्रदर्शन पिछले साल ओवल में 149 रन का ही था। मयंक अग्रवाल ने अपना स्थान पक्का कर लिया है तो चर्चा का विषय केवल दूसरे सलामी बल्लेबाज के लिए ही होगा। गुरुवार को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीन टेस्ट मैचों की सीरीज के लिए चयन होना है और राहुल पर खराब प्रदर्शन की गाज गिर सकती है।

रोहित शर्मा को मिलेगा फायदा

वेस्टइंडीज के खिलाफ पिछले दो टेस्ट मैचों में राहुल ने मयंक अग्रवाल के साथ ओपनिंग की थी जबकि विश्व कप में पांच शतक मारने वाले रोहित शर्मा को अंतिम एकादश से बाहर बैठना पड़ा था। राहुल के बाहर रहने पर वनडे व टी-20 के उपकप्तान रोहित को टेस्ट में ओपनिंग का मौका मिल सकता है। हनुमा विहारी और अजिंक्य रहाणे पांचवें और छठे नंबर पर बल्लेबाजी करेंगे।

मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद पहले ही इस बात के संकेत दे चुके हैं कि राहुल का हनीमून पीरियड खत्म हो चुका है और अब रोहित को ओपनिंग में मौका मिलेगा। रोहित भारत के लिए अंतिम टेस्ट 2018 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज में खेले थे। चेतेश्वर पुजारा तीसरे नंबर के लिए और कप्तान विराट कोहली चौथे नंबर के लिए फिक्स हैं।

मुख्य कोच रवि शास्त्री और कप्तान कोहली के पास एक ही विकल्प बचा है कि वह आक्रामक खिलाड़ी जैसे रोहित को शीर्ष क्रम में आजमाएं। बंगाल के सलामी बल्लेबाज अभिमन्यु ईश्वरन ने घरेलू और भारत-ए मैचों में शानदार प्रदर्शन किया है और अगर चयन समिति राहुल को हटाने का फैसला करती है तो टीम में रिजर्व सलामी बल्लेबाज के तौर पर उन्हें स्थान दिया जा सकता है। गुजरात के प्रियांक पंचाल और पंजाब के शुभमन गिल भी ओपनिंग की दौड़ में शामिल हैं।

अभ्यास मैच में भी स्थान

15 सदस्यीय टीम में रोहित और ईश्वरन का चयन हो सकता है। भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच शुरुआती टेस्ट मैच दो अक्टूबर से विशाखापत्तनम में होना है। इससे पहले दक्षिण अफ्रीकी टीम विजयनगरम में भारत-ए के खिलाफ दो दिवसीय अभ्यास मैच खेलेगी। ऐसे में इन दोनों को उस टीम में भी मौका मिल सकता है।

फिट नहीं हैं भुवनेश्वर

टेस्ट में हार्दिक पांड्या की वापसी हो सकती है जो अनफिट होने के कारण वेस्टइंडीज के खिलाफ नहीं खेले थे। वहीं पूरी तरह फिट नहीं होने के कारण भुवनेश्वर कुमार को बाहर बैठना पड़ सकता है। नवदीप सैनी को बैकअप तेज गेंदबाज के रूप में शामिल किया जा सकता है। हालांकि यह देखना होगा कि क्या थिंक टैंक विश्व कप को ध्यान में रखते हुए अगले 13 महीनों में केवल सफेद गेंद के क्रिकेट पर जोर देना चाहता है या नहीं।

यहां भी बदलाव संभव

भारत में टेस्ट मैचों में सामान्य तौर पर टीम में एक विशेषज्ञ विकेटकीपर होता है लेकिन रिद्धिमान साहा भी टीम की योजनाओं में शामिल हैं। हालांकि रिषभ पंत पहली पसंद बने रहेंगे। रवींद्र जडेजा, कुलदीप यादव और रविचंद्रन अश्विन तीन स्पिनर जबकि जसप्रीत बुमराह, मुहम्मद शमी और इशांत शर्मा तीन तेज गेंदबाज होंगे। अगर शमी को आराम दिया जाता है तो उमेश यादव टीम में आ सकते हैं।

टेस्ट में रोहित शर्मा

रोहित शर्मा ने टेस्ट क्रिकेट में भारत के लिए अब तक कुल 27 मैच खेले हैं, जिनकी 47 पारियों में उनके बल्ले से कुल 1585 रन निकले हैं। इस दौरान उनका औसत 39.62 का है। टेस्ट क्रिकेट में रोहित शर्मा 3 शतक और 10 अर्धशतक लगा चुके हैं। टेस्ट क्रिकेट में रोहित शर्मा का हाइएस्ट स्कोर 177 रन है।   

टेस्ट में लोकेश राहुल

लोकेश राहुल ने अब तक भारत के लिए 36 टेस्ट मैच खेले हैं, जिनकी 60 पारियों में उन्होंने कुल 2006 रन बनाए हैं। केएल राहुल के नाम क्रिकेट के इस फॉर्मेट में 5 शतक और 11 अर्धशतक लगाने का रिकॉर्ड दर्ज है। राहुल का टेस्ट क्रिकेट में औसत 34.58 का है।  

Posted By: Vikash Gaur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप