नई दिल्ली, जेएनएन। इंग्लैंड क्रिकेट टीम के ओपनर बल्लेबाज कीटोन जेनिंग्स ने भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज में काफी बुरा प्रदर्शन किया। इस पूरी सीरीज के दौरान जेनिंग्स रन बनाने के लिए तरसते दिखे। पांचवें टेस्ट मैच की पहली पारी में भी वो फ्लॉप रहे थे और दूसरी पारी में भी वो सिर्फ 10 रन बनाकर शमी की गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गए। जेनिंग्स ने इस टेस्ट सीरीज में कुछ बेहद शर्मनाक रिकॉर्ड अपने नाम किए।  

पिछली 18 पारियों में जेनिंग्स ने नहीं लगाया अर्धशतक

जेनिंग्स ने 8 दिसंबर 2016 को भारत के खिलाफ मुंबई में अपने टेस्ट करियर की शुरुआत की थी। इस मैच की दोनों पारियों में उन्होंने 112,0 रन बनाए थे। इसके बाद भारत के खिलाफ ही दूसरे टेस्ट मैच में इसी सीरीज के दौरान उन्होंने 1,54 रन की पारी खेली थी। ये किटोन के टेस्ट करियर का आखिरी अर्धशतक था। इसके बाद से अब तक उन्होंने कुल 10 टेस्ट मैच खेले हैं जिसकी 18 पारियों में उनके बल्ले से अर्धशतक नहीं निकला है। इससे पहले ये रिकॉर्ड इंग्लैंड के ओपनर बल्लेबाज ए बेनेरमन के नाम पर था जिन्होंने अपनी 16 पारियों के दौरान एक भी अर्धशतक नहीं लगाया। अब जेनिंग्स ने उन्हें पीछे छोड़ दिया और पहले नंबर पर आ गए हैं। एक नजर डालते हैं आंकड़े पर जिनसे पता चलता है कि किस इंग्लैंड के ओपनर बल्लेबाज ने कितनी पारियों तक कोई अर्धशतक नहीं लगाया। 

किटोन जेनिंग्स- (2017- खेल रहे हैं)- 18 पारी

ए बेनेरमन- (1880-93)- 16 पारी

जे इडरिच- (1969-75)- 16 पारी

ग्राहम गूच- (1980-85)-  14 पारी

एलिएस्टर कुक- (2009-10)- 14 पारी

एम बेयरले- (1977-81)- 13 पारी

अपने घर में ओपनर के तौर पर सबसे खराब औसत ( 18 से ज्यादा पारी)

जेनिंग्स ने अपने घर में जितने भी टेस्ट मैच खेले हैं उसकी बात करें तो उनका औसत ओपनर के तौर पर सबसे खराब है। इससे पहले अपने घर में टेस्ट में ओपनर के तौर पर सबसे खराब औसत का रिकॉर्ड श्रीलंका के एस वेत्तीमुने का था। अब जेनिंग्स ने उन्हें पीछे छोड़ दिया है। अपने घर में ओपनर के तौर पर सबसे खराब औसत इन खिलाड़ियों का रहा है। 

किटोन जेनिंग्स (इंग्लैंड में)- 17.71

एस वेत्तीमुने (श्रीलंका में)- 18.19

जावेद उमर (बांग्लादेश में)- 20.54

एम बेयरले (इंग्लैंड में)- 20.95

के पॉवेल (वेस्टइंडीज में)- 23.05

टी फ्रैंकलिन (न्यूजीलैंड में)- 23.16

भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज में जेनिंग्स का प्रदर्शन

भारत के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की सीरीज में किए अपने प्रदर्शन से जेनिंग्स खुश तो नहीं ही होंगे। उन्होंने पांच टेस्ट मैचों की नौ पारियों में 18.11 की साधारण औसत से 163 रन बनाए। इस टेस्ट सीरीज में उनका बेस्ट स्कोर 42 रन रहा। जेनिंग्स ने पूरे टेस्ट सीरीज के दौरान अपनी नौ पारियों में 42,8,11,20,13,0,36,23,10 रन की पारी खेली। उन्होंने अपने टेस्ट करियर में अब तक खेले 12 टेस्ट मैचों में 22.09 की औसत से 486 रन बनाए हैं।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Sanjay Savern