नई दिल्ली, जेएनएन। भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली जिस रफ्तार से रन बनाते हैं उनके सामने कोई भी रिकॉर्ड टिकता नहीं दिखता। वेस्टइंडीज के खिलाफ होने वाली टेस्ट सीरीज में पूर्व ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज सर डॉन ब्रैडमैन के कई रिकॉर्ड विराट के निशाने पर होंगे।

कोहली ने हाल ही में खेली गई वनडे सीरीज में दो लगातार शतक जमाया था। इसी सीरीज के दौरान उन्होंने दो दशक में 20 हजार इंटरनेशनल रन बनाकर नया इतिहास रचा था। आज तक कोई भी बल्लेबाज ऐसा नहीं कर पाया।

टेस्ट शतक के मामले में कर सकते हैं ब्रैडमैन की बराबरी 

भारतीय कप्तान इस वक्त पूरी लय में हैं और वनडे में जमाए शतकों के सिलसिले को अगर जारी रखा तो वह ब्रैडमैन की बराबरी कर सकते हैं। ब्रैडमैन ने टेस्ट क्रिकेट में कुल 29 शतक बनाए हैं और कोहली के पास उनकी बराबरी का मौका है। कोहली ने वनडे में दो पारी खेली और दोनों में शतक बनाया ऐसा ही अगर वह टेस्ट में कर लेते हैं तो ब्रैडमैन के 29 शतक के बराबर पहुंच जाएंगे। 25 टेस्ट शतक के साथ टेस्ट सीरीज की शुरुआत करने जा रहे कोहली के लिए यह मुश्किल जरूर है लेकिन नामुमकिन नहीं।

टेस्ट में ब्रैडमैन को पीछे छोड़ सकते हैं कोहली

ब्रैडमैन के नाम 52 टेस्ट मैच में कुल 6996 रन हैं और विराट ने 77 टेस्ट खेलने के बाद अब तक 6613 रन बनाए हैं। ब्रैडमैन को पीछे छोड़ने के लिए कोहली को 383 रन की जरूरत है। इसी के साथ विराट टेस्ट में 7 हजार का आंकड़ा भी पार कर सकते हैं।

कप्तानी में कोहली बनाएंगे रिकॉर्ड !

वेस्टइंडीज के खिलाफ विराट की कप्तानी में भारत को दो टेस्ट मैच खेलना है। अगर विराट ने यह दोनों ही मुकाबले जीत लिए तो वह पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को टेस्ट जीत के मामले में पीछे छोड़ देंगे। धोनी ने बतौर कप्तान 27 टेस्ट मैच जीते थे और विराट अब तक 26 मुकाबले जीत चुके हैं।

26 टेस्ट जीत के साथ विराट इंग्लैंड के माइकल वॉन, पाकिस्तान के मिसबाह उल हक और ऑस्ट्रेलिया के मार्क टेलर के बराबर हैं। पहला टेस्ट जीतने के साथ ही वह धोनी, हेंसी क्रॉन्ये और विवियन रिचर्ड्स के 27 टेस्ट सीजत की बराबरी कर लेंगे।

 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप