नई दिल्ली, जागरण स्पेशल। Happy Birthday Ambati Rayudu: जो खिलाड़ी विराट कोहली, सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली, रोहित शर्मा, शिखर धवन और एमएस धौनी से भी अच्छे एवरेज से रन बना सकता है वो कुछ भी कर सकता है, लेकिन जब इंसान के दिमाग पर गुस्सा हावी हो जाता है तो सब तबाह हो जाता है। ऐसा ही कुछ एक भारतीय क्रिकेटर के साथ हुआ जिसने अपने टैलेंट से सभी को प्रभावित किया, लेकिन खुद के गुस्से पर काबू न पाने की वजह से अपना करियर लगभग तबाह भी कर लिया।

जी हां, हम बात कर रहें भारतीय टीम के दाएं हाथ के बल्लेबाज अंबाती रायुडू की जिन्होंने 27 साल की उम्र में भारतीय टीम के लिए डेब्यू किया था। अंबाती रायुडू की भारतीय वनडे टीम में जगह बन चुकी थी, लेकिन एकाध परफॉर्मेंस के कारण उनको वर्ल्ड कप 2019 की टीम से नज़रअंदाज कर दिया गया। उधर, कई विवादों से नाता रखने वाले अंबाती रायुडू ने संन्यास का ऐलान कर दिया। हालांकि, बाद में अंबाती रायुडू ने अपने संन्यास के फैसले को वापस ले लिया और क्रिकेट में वापसी करने का ऐलान कर दिया।

टैलेंट के धनी थे अंबाती रायुडू

आज हम अंबाती रायुडू की बात इसलिए कर रहे हैं, क्योंकि आज ही दिन 23 सितंबर साल 1985 में उनका जन्म हुआ था। आंध्र प्रदेश के गुंतूर में जन्मे अंबाती रायुडू का विवादों से गहरा नाता रहा है। माना जा रहा है कि अंबाती रायुडू का गुस्सा ही रहा, जिसने उनके टैलेंट को तो खत्म किया है, साथ ही साथ उनके करियर को भी तबाह कर दिया। बता दें कि अंबाती रायुडू का 50 मैच खेलने के बाद औसत भारत के सभी खिलाड़ियों से ज्यादा है। इस मामले में क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर और विराट कोहली भी काफी पीछे हैं।

50 वनडे इंटरनेशनल मैच खेलने के बाद अंबाती रायुडू का औसत 47.06 का है, जबकि विराट कोहली ने 50 पारियों के बाद तक 44.63 के औसत से रन बनाए थे। इसके अलावा महेंद्र सिंह धौनी अपने करियर की शुरुआत के 50 मैच खेलने के बाद 43.51 के औसत से रन बना पाए थे। वहीं, शिखर धवन का औसत वनडे की 50 पारियों के बाद 43.60 का था। इनके अलावा टीम इंडिया के पूर्व दिग्गज कप्तान सौरव गांगुली भी 50 वनडे इंटरनेशल पारियों के बाद 40.26 के औसत से रन बना पाए थे।

अंबाती रायुडू और उनके विवाद

कोच और अंपायर से लड़ाई

करियर के शुरुआत में ही अंबाती रायुडू ने साल 2004-05 की रणजी ट्रॉफी के दौरान टीम के कोच राजेश यादव के साथ लड़ाई कर ली। इसके बाद उन्होंने आंध्र प्रदेश की टीम को छोड़ दिया और फिर हैदराबाद की टीम ज्वाइन कर ली। इसके बाद साल 2005 में अंबाती रायुडू और पूर्व क्रिकेटर शिवलाल यादव के बेटे अर्जुन यादव के बीच लड़ाई हो गई, जिसमें अर्जुन स्टंप लेकर अंबाती रायुडू के पीछे दौड़े और उन पर हमला कर दिया। इसी साल उन्होंने अंपायर से भी झगड़ा किया था।

भज्जी से की बहस

आइपीएल के 9वें सीजन के एक मैच में मुंबई इंडियंस के लिए खेलते समय हरभजन सिंह और अंबाती रायुडू के बीच बहस हो गई। हरभजन की एक गेंद पर रायुडू चौका नहीं रोक पाए तो भज्जी नाराज हो गए और रायुडू को कुछ बोल दिया। उधर, अंबाती रायुडू का भी पारा सातवें आसामान पर चढ़ गया और फिर मैदान पर तू-तू मैं-मैं हो गई।

वर्ल्ड कप 2019 से नज़रअंदाज

वर्ल्ड कप 2019 से पहले भारतीय टीम में नंबर चार के प्रबल दावेदार माने जा रहे अंबाती रायुडू की जगह ऑलराउंडर विजय शंकर को 3 डाइमेंशनल प्लेयर बताकर टीम में चुन लिया गया। इसके बाद अंबाती रायुडू ने गुस्से में ट्वीट कर दिया कि वे 3D चश्मा खरीदकर वर्ल्ड कप मजा लेंगे। हालांकि, तब तक अंबाती रायुडू को ये बता दिया गया था कि वे रिजर्व खिलाड़ी के तौर पर हैं।

इसके बाद जब वर्ल्ड कप 2019 के दौरान शिखर धवन के चोटिल होने पर रिषभ पंत को बुलाया गया और फिर विजय शंकर के चोटिल होने के बाद मयंक अग्रवाल को इंग्लैंड भेज दिया गया। ऐसे में अंबाती रायुडू का गुस्सा का मीटर काफी ऊपर चढ़ गया और उन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया। बाद में फैसला वापस भी ले लिया, लेकिन शायद तब तक बहुत देर हो चुकी थी।

बेहतरीन है रायडू का वनडे रिकॉर्ड

अंबाती रायुडू ने भारतीय टीम के लिए 55 वनडे मैचों में मध्यक्रम में बल्लेबाजी करते हुए 47.06 की औसत से 1694 रन बनाए हैं। इस दौरान उन्होंने 3 शतक और 10 अर्धशतक लगाए हैं। T20 इंटरनेशनल क्रिकेट में अंबाती रायुडू फ्लॉप रहे हैं। टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट के 6 मैचों में अंबाती रायुडू 28.7 की औसत से कुल 42 रन बना पाए हैं, जिसका उनका हाईएस्ट स्कोर 20 रन है।

Posted By: Vikash Gaur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप