केपटाउन, प्रेट्र। भारत के खिलाफ टी-20 सीरीज 1-2 से हारने के बाद दक्षिण अफ्रीका के कोच ओटिस गिब्सन का गुस्सा अपने तेज गेंदबाजों पर निकला। भारतीय गेंदबाजों से तुलना करते हुए उन्होंने कहा कि अनुभव के मामले में हमारे गेंदबाज काफी पीछे रहे। गिब्सन ने सिर्फ एक शब्द में हार की वजह बता दी उन्होंने कहा कि अनुभव (बड़ा अंतर रहा)।

उन्होंने कहा, 'भारत के पास बुमराह और भुवनेश्वर थे जो काफी अनुभवी खिलाड़ी हैं। हमारे पास क्रिस मौरिस और पदार्पण करने वाले जूनियर डाला थे। भारत के लिए ही नहीं बल्कि अंत में तीन या चार साल आइपीएल में खेलने का अनुभव भी दोनों भारतीय गेंदबाजों में दिखा।'

उन्होंने ऑलराउंडर क्रिस मौरिस को निशाने पर लिया जो टीम की ओर से गेंदबाजी की कमान संभाल रहे थे। गिब्सन ने कहा, 'जूनियर ने अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन मौरिस को काफी काम करने की जरूरत है। वह हमारे लिए मैच विजेता है लेकिन उसे अपनी गेंदबाजी में अधिक निरंतरता की जरूरत है। हमने वनडे मैचों में रोमांचक नए खिलाड़ी देखे। लुंगी नगीदी और हेनरिक्स क्लासेन ने पदार्पण किया और वे दोनों शानदार है। इस टी-20 सीरीज में डाला भी काफी अच्छा रहा और हमने जोंकर को भी देखा। वह भी अच्छा है।'

गिब्सन ने कहा, 'हारना हमेशा आसान नहीं होता, लेकिन जब इतने सारे वरिष्ठ खिलाड़ी नहीं खेल रहे हों और आप नए खिलाडि़यों के साथ खेल रहे हों तो नतीजा देना मुश्किल हो जाता है, लेकिन फिर आप भविष्य की ओर देखते हो और उनकी तरफ देखते हो तो लगता है कि भविष्य अच्छा है।'

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Ravindra Pratap Sing

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप