नई दिल्ली, जेएनएन। भारत और न्यूजीलैंड के बीच वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल मैच की शुरुआत दूसरे दिन हुई। मैच के पहले दिन का खेल बारिश की वजह से रद कर दिया गया था। इस मैच में न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का निर्णय लिया था। मैच के पहले दिन बारिश हुई थी इस वजह से ये उम्मीद की जा रही थी कि, कंडीशन को देखते हुए शायद टीम इंडिया अपनी प्लेइंग इलेवन में बदलाव करे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। कप्तान विराट ने अपनी प्लेइंग इलेवन में किसी भी तरह के किसी बदलाव से इनकार कर दिया था तो वहीं न्यूजीलैंड की टीम ने साउथैंप्टन की कंडीशन को देखते हुए अपनी टीम में पांच तेज गेंदबाजों को शामिल किया।

टॉस के ठीक बाद विराट कोहली ने कहा कि अगर मैं टॉस जीत जाता तो शायद पहले गेंदबाजी करने का फैसला करता, लेकिन बोर्ड पर रन जुटाना हमारी ताकत रही है। एक बड़ा मुकाबला, बोर्ड पर रन, लेकिन इसका फायदा है। हमारी टीम संतुलित है जिससे कि हम किसी भी परिस्थिति का सामना करने के लिए तैयार रहें। टेस्ट क्रिकेट में हमारी टीम अच्छा प्रदर्शन कर रही है। ये फाइनल मैच भी हमारे लिए सिर्फ एक टेस्ट मैच ही है और हमें प्रोफेशनल होना है और अपने प्रोसेस को फॉलो करना है। 

वहीं न्यूजीलैंड के कप्तान केन ने टॉस जीतने के बाद कहा कि, विकेट पूरे मैच के दौरान एक जैसा ही रहेगा और हम पहले गेंदबाजी करेंगे। उन्होंने कहा कि साउथैंप्टन के मौसम को देखते हुए हम कंडीशन का ज्यादा से ज्यादा लाभ उठाने की कोशिश करेंगे। इस ठंडे मौसम में विकेट एक जैसा ही रहेगा। हम चार फ्रंटलाइन सीमर के साथ उतरने जा रहे हैं और टीम में कोई स्पिनर नहीं होगा। इस महान मौके पर दुनिया की बेस्ट टीम के खिलाफ महान चैलेंज है। पहली बार हम टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल खेलने जा रहे हैं और टीम काफी उत्साहित है। वाटलिंग का ये आखिरी मुकाबला है और उनके जैसे खिलाड़ी के लिए आखिरी मैच खेलना शानदार मौका है। 

Edited By: Sanjay Savern