विप्लव कुमार, आनलाइन डेस्क। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान विराट कोहली इन दिनों खराब फार्म से जूझ रहे हैं। उनका इंग्लैंड का दौरा भी इतना अच्छा नहीं गया। वह टेस्ट, टी20 और वनडे तीनों ही फार्मेट में रन बनाने में नाकाम रहे। लगातार फार्म हासिल करने में जूझ रहे कोहली के आस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्व कप टीम में चुने जाने पर भी सवाल उठ रहे हैं। 1983 विश्व कप को जीतने वाली भारतीय टीम के चैंपियन विकेटकीपर सैयद किरमानी ने विराट के टी20 विश्व कप चयन पर दैनिक जागरण डिजिटल के खेल प्रभारी विप्लव कुमार से खास बात की।

किरमानी ने कहा, "विराट कोहली एक रोल मॉडल हैं, हर लिहाज से देखिए तो वो रोल मॉडल हैं, इतने ज्यादा अनुभवी खिलाड़ी हैं। उनको टी20 के लिए चुनी जाने वाली टीम में होना ही चाहिए। बिल्कुल रहना चाहिए, पता नहीं किस दिन अच्छे फार्म में आ जाए और गेम चेंजर बन जाएं। अनुभवी खिलाड़ियों को टीम में होना चाहिए जिससे की जो युवा खिलाड़ी हैं वो उनको देखते हुए सीखें।"

इंग्लैंड के दौरे पर विराट ने टेस्ट मैच की दो पारियों में 11 और 20 रन बनाए थे। इसके बाद दूसरे और तीसरे टी20 मुकाबले में उन्होंने 1 और 11 रन की पारी खेली। दूसरे और तीसरे वनडे मुकाबले में विराट ने 16 और फिर 17 रन बनाए। कुल मिलाकर इस दौरे पर उनके बल्ले से 76 रन निकले जिसमें 20 रन की सबसे बड़ी पारी देखने को मिला। 

चयनकर्ताओं को किरमानी की सलाह

"टीम का संतुलन ऐसा होना चाहिए कि अनुभवी और युवाओं को मिलकर रहना चाहिए। टी20 विश्व कप के लिए चुनी जाने वाली टीम 50-50 होना चाहिए। 50 फीसदी युवा होने चाहिए और 50 फीसदी अनुभवी खिलाड़ी। कॉम्बिनेशन भी संतुलित होना चाहिए उस लिहाज से टीम का सलेक्शन होना चाहिए।"

भारतीय टीम में कड़ी प्रतियोगिता

"भारतीय खिलाड़ियों में इतना जबरदस्त प्रतियोगिता है। देखिए अगर जो विराट कोहली की जगह कोई और होता आउट आफ फार्म खिलाड़ी तो वो अभी तक टीम से बाहर हो जाता अभी तक। तो मेरे हिसाब से जो विराट टीम के स्थापित खिलाड़ी हैं उनको विश्व कप टीम में होना चाहिए।"  

Edited By: Viplove Kumar