मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

नई दिल्ली, एजेंसी। ऑस्ट्रेलियाई टीम के पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ ने बैन से लौटने के बाद टेस्ट क्रिकेट में तबाही मचा रखी है। पांच मैचों की सीरीज में इंग्लैंड के खिलाफ वे सिर्फ 5 पारी खेलने के बाद सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं। इतना ही नहीं, महज तीन पारियों में स्टीव स्मिथ ने आइसीसी टेस्ट रैंकिंग में भी अपनी नंबर वन की कुर्सी विराट कोहली से छीन ली। 

साउथ अफ्रीका के खिलाफ केपटाउन टेस्ट मैच में साल 2018 के मार्च में बॉल टैंपरिंग करने वाले स्टीव स्मिथ पर एक साल का बैन लगा था। इसके अलावा स्टीव स्मिथ पर दो साल का बैन कप्तानी के लिए भी लगा था, जो मार्च 2020 में खत्म होगा। स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर पर जिस दिग्गज ने बैन लगाया था अब उसी ने कहा है कि स्टीव स्मिथ को टेस्ट की कप्तानी मिलेगी। 

ये भी पढ़ेंः आज बदल जाएगा फिरोजशाह कोटला स्टेडियम का नाम, कोहली को भी मिलेगा ये सम्मान

दरअसल, ऑस्ट्रेलियाई टीम के पूर्व कप्तान मार्क टेलर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया बोर्ड का हिस्सा थे तब स्टीव स्मिथ पर बैन लगा था। अब मार्क टेलर ने कहा है कि दाएं हाथ के इस दमदार बल्लेबाज को एक बार फिर से कंगारू टीम की कमान मिलेगी। हालांकि, इससे पहले टिम पेन टीम के कप्तान बने रहेंगे। टिप पेन जब टेस्ट से संन्यास लेंगे तो स्टीव स्मिथ को टीम की कप्तानी मिलेगी। 

मार्क टेलर ने सिडनी मोर्निंग हेराल्ड में छपे अपने कॉलम में लिखा है, "मुझे विश्वास है कि स्टीव स्मिथ ऑस्ट्रेलिया की फिर से कप्तानी करेंगे। मैं क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया बोर्ड का हिस्सा था, जब स्टीव स्मिथ, डेविड वार्नर और कैमरुन बैनक्राफ्ट पर बैन लगाया गया था। अब इसमें कोई संदेह नहीं है कि स्मिथ ने इस घटना से काफी कुछ सीखा है और हमें एक दमदार लीडर मिलेगा।" 

ये भी पढ़ेंः रोहित शर्मा या फिर विराट कोहली के दोस्त केएल राहुल, जानिए किसे मिलेगा मौका

मार्क टेलर ने ऐसा इसलिए भी कहा है क्योंकि टिम पेन इसी साल दिसंबर में 35 साल के हो रहे हैं और स्टीव स्मिथ इस समय 30 साल के हैं। ऐसे में टिम पेन जल्द टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कह सकते हैं, जिसका मन वे पहले ही बना चुके थे। वहीं, स्टीव स्मिथ के पास ऑस्ट्रेलियाई टीम को ऊंचाइयों पर ले जाने के लिए काफी समय है। बैन लगने के दौरान भी वे टीम के कप्तान थे। 

Posted By: Vikash Gaur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप