नई दिल्ली, जेएनएन। पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर इन दिनों एक से बढ़कर एक नए खुलासे कर रहे हैं। अब उन्होंने बताया है कि वो बल्लेबाजों को घायल करके उनके प्रति अपना प्यार दिखाते थे। शोएब अख्तर ने बताया कि वो युवराज सिंह, शाहिद अफरीदी व अब्दुल रज्जाक को भी घायल कर चुके हैं और ये उनके प्रति मेरा प्यार था। उन्होंने बताया कि उन्होंने युवी की बैक, अफरीदी का कंधा व रज्जाक की हेमस्ट्रिंग तोड़ी थी। अख्तर ने 1997 में पाकिस्तान के लिए अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत की थी और उन्होंने इंटरनेशनल लेवल पर कुल 444 विकेट हासिल किए थे। 

शोएब अख्तर ने कहा कि मैं रेसलिंग नहीं करता हूं, लेकिन दूसरे के प्रति अपना प्यार दिखाने का मेरा यही तरीका है। जब मैं किसी खिलाड़ी को पसंद करता हूं तो उन्हें इंजर्ड करता हूं। मैंने युवराज सिंह, शाहिद अफरीदी व अब्दुल रज्जाक के साथ भी यही किया। आप कह सकते हैं कि मेरा तरीका थोड़ा अलग है या फिर ये जंगली है। मेरी युवा अवस्था में ये काफी मूर्खतापूर्ण था और मैंने अपनी ताकत को ठीक से नहीं समझा था। शोएब पहले भी युवराज सिंह व हरभजन सिंह के बारे में कह चुके हैं कि वो उनके छोटे भाई की तरह हैं। उन्होंने कहा था कि हम अपने हाथों से कुश्ती करते थे, लेकिन युवी व भज्जी मेरे छोटे भाई हैं।  

शोएब अख्तर के नाम पर सबसे तेज गेंद फेंकने का रिकॉर्ड है और इसे लेकर पाकिस्तान के इस पूर्व तेज गेंदबाज ने बताया कि वह इसके लिए किस तरह की ट्रेनिंग करते थे। उन्होंने कहा कि मेरे लिए 100 मीटर प्रति घंटे की सीमा को पार करना कोई बड़ा काम नहीं था। यह सब मीडिया का किया धरा था। सबसे तेज गेंद फेंकने के लिए मुझे कुछ नहीं मिला। खुदा जानता है कि मैंने इसके लिए ट्रेनिंग ली और इसमें सफल हो गया। मैं इसके लिए 26 यार्ड्स पर गेंदबाजी करता था, जो क्रिकेट गेंद से आसान नहीं है। जब मैं 22 यार्ड पर गेंदबाजी करने लगा तो मैं लगभग छह किलोमीटर तेज रफ्तार से गेंद फेंक रहा था। ये सब मेरी कड़ी मेहनत का परिणाम था। 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस