नई दिल्ली, स्पोर्ट्स डेस्क। बांग्लादेश के खिलाफ दूसरे वनडे मैच में टीम इंडिया के कप्तान रोहित शर्मा ने जो किया, वह रोज-रोज नहीं होता और जब होता है तो क्रिकेट के कई पीढ़ियों को प्रेरित कर देता है। दूसरे वनडे मैच के दूसरे ही ओवर में कप्तान रोहित शर्मा फील्डिंग के दौरान घायल हो गए थे।

चोट इतनी गहरी थी कि खून निकल आया और फौरन उन्हें मैदान छोड़कर बाहर जाना पड़ा। बल्लेबाजी की बारी आई, लेकिन रोहित नहीं उतरे। जब टीम को उनकी दरकार थी तो 9वें नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरे।

घायल अंगूठे के साथ रोहित की पारी

रोहित घायल अंगूठे के साथ न केवल बल्लेबाजी करने आए बल्कि साथ में टीम इंडिया की जीत की उम्मीदों को भी साथ लाए। उन्होंने 28 गेंद पर 51 रन की पारी खेली और टीम इंडिया की जीत के लिए आखिरी गेंद तक लड़े। उन्होंने अपनी इस पारी में 3 चौके और 5 छक्के लगाए। आखिरी ओवर में 20 रन चाहिए थे, लेकिन रोहित आखिरी गेंद पर चूक गए नहीं तो यह वनडे क्रिकेट की वन ऑफ द बेस्ट विन हो सकती थी।

पत्नी रितिका का रोहित को सलाम

रोहित की इस साहसिक पारी को कोच राहुल द्रविड़ सहित पूरी दुनिया ने तो सराहा ही पत्नी रितिका ने भी उनका हौसला बढ़ाया। उन्होंने इंस्टाग्राम स्टोरी पर रोहित की टूटे अंगूठे की तस्वीर साझा करते हुए करते हुए लिखा कि मैं आपसे प्यार करती हूं और आप जैसे भी हैं मुझे आप पर गर्व है।

तीसरे वनडे से बाहर हुए रोहित

दूसरे वनडे में चोटिल अंगूठे के साथ रोहित ने यादगार पारी खेल तो दी, लेकिन टीम इंडिया के लिए बुरी खबर यह है कि तीसरे और आखिरी वनडे में टीम को उनका साथ नहीं मिल पाएगा। रोहित के अलावा 2 और खिलाड़ी भी बांग्लादेश के खिलाफ आखिरी वनडे में टीम का हिस्सा नहीं होंगे।

उनके अलावा दीपक चाहर और पहले वनडे मैच में डेब्यू करने वाले कुलदीप सेन भी टीम इंडिया का हिस्सा नहीं होंगे। चाहर ने दूसरे वनडे मैच में केवल 3 ओवर की गेंदबाजी की थी।

Edited By: Sameer Thakur

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट