नई दिल्ली, जेएनएन। भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री और कप्तान विराट कोहली ने स्पष्ट कर दिया है कि अब उनका फोकस अगले साल ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 वर्ल्ड कप और आइसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप पर है। भारतीय टीम अगले कुछ मैचों में बदलाव कर सकती है। उधर रवि शास्त्री ने ये भी साफ कर दिया है कि अगर रिषभ पंत वेस्टइंडीज दौरे पर की गई गलतियों को दोहराते रहेंगे तो उन्हें इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा।

मुख्य कोच रवि शास्त्री ने सीधे तौर पर कुछ कहने से बचते हुए कहा कि इस युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ने भारत के वेस्टइंडीज दौरे पर निराश किया। रवि शास्त्री ने कहा कि हम इस बार उन्हें छोड़ रहे हैं। वह त्रिनिदाद में पहली गेंद पर जिस तरह का शॉट खेल कर आउट हुए थे, अगर इसे दोहराते हैं तो उन्हें इसके बारे में बताया जाएगा। कौशल हो या ना हो, आपको इसका खामियाजा भुगतने के लिए तैयार रहना चाहिए। 

काबिलियत पर नहीं उठ रहे सवाल

शास्त्री ने कहा कि पंत की काबिलियत पर कोई सवाल नहीं उठा सकता, लेकिन अगर वह शॉट चयन और सही निर्णय लेने में सुधार करें तो उन्हें रोकना आसान नहीं होगा। उन्होंने कहा कि कोई भी उनके खेलने की शैली में बदलाव लाने के बारे में नहीं सोच रहा। जैसा विराट कोहली ने कहा कि मैच की स्थिति के हिसाब से सजग रहना और शॉट-चयन महत्वपूर्ण हो जाता है। अगर उन्होंने इसमें सुधार कर लिया तो उन्हें रोकना आसान नहीं होगा।

पंत को जिम्मेदारी समझनी होगी

कोच ने कहा कि उन्हें यह समझने में एक मैच या फिर चार मैच लग सकते हैं। उन्होंने आइपीएल में ढेर सारे मैच खेले हैं, वह सीखेंगे। अब समय आ गया है कि वह जिम्मेदारी लें। जब क्रीज पर आपके साथ कप्तान मौजूद हों और आप लक्ष्य का पीछा कर रहे हों तो आपको समझदारी से क्रिकेट खेलना होता है। शास्त्री ने कहा कि यह बिलकुल सामान्य है। खुद को निराश करना तो छोड़िए, आप टीम को भी निराश कर रहे हैं।

Posted By: Vikash Gaur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप