दुबई, जेएनएन। हांगकांग के खिलाफ एशिया कप के पहले मैच में शतक से पूर्व शिखर धवन रन बनाने के लिए जूझ रहे थे लेकिन भारत के इस सलामी बल्लेबाज ने दावा किया कि वह कभी खराब फार्म में नहीं थे। धवन ने हांगकांग के खिलाफ मंगलवार को 127 रन की पारी खेली जिससे भारत ने 26 रन की जीत के साथ टूर्नामेंट की विजयी शुरुआत की। इस मैच के बाद जब उनसे हांगकांग से हार की आशंका के बारे में पूछा गया,  धवन ने कहा कि ऐसा उनके मन में कभी नहीं आया।

इस सलामी बल्लेबाज ने 14वां एकदिवसीय शतक जड़ने के बाद कहा, ‘यह फार्म का सवाल नहीं है, मैं अच्छी बल्लेबाजी कर रहा था लेकिन रन नहीं बना पा रहा था। रन भी बना पाना शानदार है।’ इंग्लैंड में टेस्ट श्रृंखला की आठ पारियों में धवन एक भी अर्धशतक नहीं जड़ पाए। हाल में एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में भी वह अच्छी शुरुआत को बड़ी पारी में बदलने में नाकाम रहे।

खिताब के प्रबल दावेदारों में शामिल भारत के लिए हांगकांग पर पहले मैच में जीत आसान नहीं रही और एक बार फिर टीम इंडिया के कमजोर मध्यक्रम को लेकर सवाल उठने लगे हैं जिसे इंग्लैंड दौरे पर भी जूझना पड़ा था।

धवन ने हालांकि टीम के अपने साथियों का बचाव करते हुए कहा, ‘पिछले चार साल में हमने इतनी सारी श्रृंखलाएं जीती हैं और कुछ गंवाई भी हैं। हम इंसान हैं। चिंता इतनी नहीं होनी चाहिए कि अच्छे नतीजों को भी भुला दिया जाए।’

उन्होंने कहा, ‘कुछ विफलताएं सभी जीत पर हावी नहीं होनी चाहिए। (अंबाती) रायुडू को देखो, वह इतना अच्छा खेला और वह इतने लंबे समय बाद खेल रहा था। इसलिए यह अच्छा है।’

निजाकत खान (92) और विरोधी कप्तान अंशुमन रथ (73) के बीच 174 रन की पहले विकेट की साझेदारी के संदर्भ में धवन ने कहा, ‘हमने उम्मीद नहीं की थी कि वे 170 रन की साझेदारी करेंगे लेकिन वे अच्छा खेले। हमारी गेंदबाजी बेहतर हो सकती थी लेकिन हमें उनके बल्लेबाजों को श्रेय देना होगा, उनके सलामी बल्लेबाज अच्छा खेले।’

उन्होंने कहा, ‘विकेट से स्विंग और सीम नहीं मिल रही थी और हमारे गेंदबाज ब्रेक के बाद खेल रहे थे। लय में आने में भी समय लगता है। भुवी (भुवनेश्वर कुमार) ब्रेक के बाद वापसी कर रहा है और शार्दुल ठाकुर इंग्लैंड में काफी नहीं खेला।’

मंगलवार को हार की आशंका के बारे में पूछने पर धवन ने कहा कि ऐसा उनके मन में कभी नहीं आया। उन्होंने कहा, ‘हमें पता था कि शीर्ष क्रम को आउट करने के बाद हम मैच में वापसी कर सकते हैं। उन्होंने अच्छी टक्कर दी। प्रत्येक मैच से सीखना हमेशा अच्छा होता है।’

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Pradeep Sehgal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप