नई दिल्ली, आइएएनएस। टी-20 क्रिकेट में शुरुआत के छह ओवर काफी अहम होते हैं क्योंकि दोनों टीमें अच्छी शुरुआत पर नजरें जमाए बैठी रहती हैं। ऑस्ट्रेलिया में अगले साल टी-20 विश्व कप होना है और ऐसे मे भारत के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन (Shikhar Dhawan) की सोच साफ है कि पारी की शुरुआत करते हुए उन्हें शुरू से आक्रामक खेल खेलना होगा। वह यहां स्टेंस बीम कार्यक्रम के दौरान मौजूद थे।

धवन ने कहा, 'एक सलामी बल्लेबाज के तौर पर रणनीति यह होगी कि शुरुआती छह ओवरों में आक्रामक खेल खेला जाए। मैं तेज खेलना पसंद करता हूं, लेकिन अगर विकेट धीमी होती है या गेंद रुककर आती है तो जाहिर सी बात है कि रणनीति में बदलाव करना पड़ता है। मेरा काम टीम को अच्छी शुरुआत देना और बड़ा स्कोर करना होगा। स्मार्ट और आक्रामक खेल टी-20 में मेरा मंत्र है।'

दिल्ली के इस बल्लेबाज से जब पूछा गया कि क्या रोहित शर्मा और उनकी जोड़ी की रणनीति एक का धीमे खेलना और एक का आक्रमण करने की होती है तो धवन ने इससे मना किया। उन्होंने कहा, 'हम स्थिति के हिसाब से खेलते हैं। किसी दिन अगर रोहित आक्रमणकरता है और मेरे बल्ले पर गेंद सही तरह से आ नहीं रही होती है तो बात अलग है, नहीं तो मैं इस बात में विश्वास नहीं रखता कि सिर्फ एक बल्लेबाज को आक्रमण करना चाहिए। अगर आपका खेल आक्रामक है तो आपको वही खेलना चाहिए। साथ ही जब आप दोनों तरफ से आक्रमण करते हैं तो सामने वाली टीम पर दबाव पड़ता है।'

आपको बता दें कि शिखर धवन बांग्लादेश के खिलाफ खेले गए तीन मैचों की टी 20 सीरीज में टीम इंडिया का हि्स्सा थे जिसे भारतीय टीम ने 2-1 से जीता। इस सीरीज में धवन का प्रदर्शन कुछ ज्यादा खास नहीं रहा था। अब टीम इंडिया गुरुवार से बांग्लादेश के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मुकाबला खेलेगी। 

 

Posted By: Sanjay Savern

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप