Move to Jagran APP

PM Modi in Raipur : 'जिनके दामन दागदार हैं, वे आज एक हो रहे हैं' प्रधानमंत्री ने विपक्ष पर कसा तंज

पीएम मोदी आज छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर पहुंचे। यहां उन्होंने लगभग 7600 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया। इसके बाद पीएम ने विजय संकल्प रैली को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। प्रधानमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ कांग्रेस के लिए एक एटीएम की तरह है। उन्होंने कांग्रेस पर भ्रष्टाचार करने का आरोप लगाया।

By Jagran NewsEdited By: Achyut KumarPublished: Fri, 07 Jul 2023 09:27 AM (IST)Updated: Fri, 07 Jul 2023 12:32 PM (IST)
पीएम मोदी ने छत्तीसगढ़ में 7600 करोड़ का परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया

रायपुर, पीटीआई। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी शुक्रवार को छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर पहुंचे। यहां उन्होंने 7,600 करोड़ रुपये की दस परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया। इसके बाद उन्होंने विजय संकल्प रैली को भी संबोधित किया। 2019 में दूसरे कार्यकाल के लिए प्रधानमंत्री चुने जाने के बाद यह छत्तीसगढ़ में मोदी की पहली यात्रा है। राज्य में इस साल के अंत में विधानसभा चुनाव होने हैं। पीएम मोदी के साथ मंच पर पांच केंद्रीय मंत्री और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी मौजूद रहे। प्रधानमंत्री ने कार्यक्रम के दौरान आयुष्मान भारत योजना के तहत लाभार्थियों को 75 लाख कार्डों के वितरण की शुरुआत भी की।

'मोदी भ्रष्टाचार पर कार्रवाई की गारंटी है'

पीएम मोदी ने विजय संकल्प रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि जिनके दामन दागदार हैं, वे आज एक साथ आने की कोशिश कर रहे हैं। जो एक-दूसरे को पानी पी-पीकर कोसते थे, वे आज साथ आने के बहाने खोजने लगे हैं। देश के हर भ्रष्टाचारी को एक बात कान खोलकर सुन लेनी चाहिए। वो अगर भ्रष्टाचार की गारंटी है, तो मोदी भ्रष्टाचार पर कार्रवाई की गारंटी है।

प्रधानमंत्री ने कहा, ''ये लोग मेरे पीछे पड़ेंगे, मेरी कब्र खोदने की धमकी देंगे, मेरे खिलाफ साजिशें रचेंगे, लेकिन उन्हें पता नहीं है, जो डर जाए वह मोदी नहीं हो सकता है।'' उन्होंने छत्तीसगढ़ को कांग्रेस के लिए 'एटीएम' बताया। 

''छत्तीसगढ़ की विकास यात्रा में आज का दिन बहुत महत्वपूर्ण है''

इससे पहले, पीएम मोदी ने कार्यक्रम के उद्घाटन समारोह में सभा को संबोधित करते हुए कहा, ''छत्तीसगढ़ की विकास यात्रा में आज का दिन बहुत महत्वपूर्ण और बहुत बड़ा है। आज छत्तीसगढ़ को 7,000 करोड़ रुपये से अधिक की परियोजनाओं का उपहार मिल रहा है। ये उपहार इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए है, कनेक्टिविटी के लिए है। ये उपहार छत्तीसगढ़ के लोगों का जीवन आसान बनाने के लिए है, यहां की स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने के लिए है।''

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत सरकार के इन प्रोजेक्ट्स से यहां रोजगार के अनेकों नए अवसर भी बनेंगे। यहां के धान किसानों, खनिज संपदा से जुड़े उद्यमियों और टूरिज्म को भी इन प्रोजेक्ट्स से बहुत लाभ मिलेगा। सबसे बड़ी बात यह है कि इनसे आदिवासी क्षेत्रों में सुविधा और विकास की नई यात्रा शुरू होगी।

पीएम मोदी के संबोधन की बड़ी बातें

  • भारत में हम सभी का दशकों पुराना अनुभव यही है कि जहां इंफ्रास्ट्रक्चर कमजोर रहा, वहां विकास भी उतनी ही देरी से पहुंचा। इसलिए आज भारत उन क्षेत्रों में अधिक इंफ्रास्ट्रक्चर विकसित कर रहा है, जो विकास की दौड़ में पीछे रह गए हैं।
  • इंफ्रास्ट्रक्चर यानी लोगों के जीवन में आसानी। इंफ्रास्ट्रक्चर यानी व्यापार कारोबार में आसानी। इंफ्रास्ट्रक्चर यानी रोजगार के लाखों नए अवसरों का निर्माण। इंफ्रास्ट्रक्चर यानी तेज विकास।
  • आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर का एक और बहुत बड़ा लाभ है, जिस पर उतनी चर्चा नहीं होती। आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर का संबंध सामाजिक न्याय से भी है। जो सदियों तक अन्याय और असुविधा झेलते रहे, उन तक भारत सरकार आज ये आधुनिक सुविधाएं पहुंचा रही है।
  • गरीब, दलित, पिछड़े और आदिवासियों की बस्तियों को आज ये सड़कें और रेल लाइनें जोड़ रही हैं। इन दुर्गम क्षेत्रों में रहने वाले मरीजों को, माताओं-बहनों को आज अस्पताल पहुंचने में सुविधा हो रही है।
  • 9 वर्ष पहले छत्तीसगढ़ के 20% से अधिक गांवों में किसी तरह की मोबाइल कनेक्टिविटी नहीं थी, आज ये घटकर लगभग 6% रह गई है। इनमें से अधिकतर जनजातीय और नक्सल हिंसा से प्रभावित गांव हैं।
  • गांवों को भी अच्छी 4G कनेक्टिविटी मिले, इसके लिए भारत सरकार 700 से अधिक मोबाइल टॉवर लगवा रही है। इनमें से करीब 300 टॉवर का काम करना शुरू कर चुके हैं।
  • आज छत्तीसगढ़ 2-2 इकोनॉमिक कॉरिडोर से जुड़ रहा है। रायपुर-धनबाद इकोनॉमिक कॉरिडोर और रायपुर-विशाखापट्टनम इकोनॉमिक कॉरिडोर इस क्षेत्र का भाग्य बदलने वाले हैं।
  • खान एवं खनिज (विकास एवं विनियमन) अधिनियम में संशोधन से छत्तीसगढ़ राज्य को बहुत लाभ हुआ है। इसके परिणामस्वरूप खनिज विकास और रोजगार सृजन को बड़ा बढ़ावा मिला है।
  • 2010-2014 की अवधि के दौरान, छत्तीसगढ़ को रॉयल्टी भुगतान के रूप में 1300 करोड़ रुपये की राशि प्राप्त हुई, जबकि 2015-16 से 2020-21 की अवधि के दौरान, एमएमडीआर अधिनियम के तहत यह राशि 2800 करोड़ रुपये थी।

सड़क नेटवर्क के निर्माण से इंपोर्ट-एक्सपोर्ट को मिलेगा बढ़ावा 

जनसभा को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि छत्तीसगढ़ प्रगतिशील खनिज से संपन्न है। यहां सड़क नेटवर्क का निर्माण करना खुशी की बात है। उन्होंने कहा कि खनिज संपन्न वैल्यू एडिशन से इंपोर्ट-एक्सपोर्ट को बढ़ावा मिलेगा।

'माता कौशल्या की धरती पर पीएम का स्वागत है'

सीएम भूपेश बघेल ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि माता कौशल्या की धरती, प्रभु श्री राम के ननिहाल छत्तीसगढ़ की पावन धरा पर प्रधानमंत्री मोदी का स्वागत करता हूं। उन्होंने कहा, ''प्रधानमंत्री से हम अनेक मंचों में मिलते हैं और नीति आयोग आदि की बैठकों में मिलते हैं। हम मांगें भी करते हैं, लेकिन उन्हें और दोहराना नहीं चाहता।''

बघेल ने कहा, ''मैं गडकरी जी के साथ भी बैठता हूं, जितना मांगते हैं उससे ज्यादा ही देते हैं। हम तो मांगते ही रहेंगे। मैं इतना कहना चाहता हूं कि हमारा राज्य नवोदित राज्य है, इसलिए ज्यादा से ज्यादा मदद हमको मिलती रहे।'' इससे पहले उन्होंने छत्तीसगढ़ के राजकीय गमछे और प्रदेश के कारीगरों द्वारा तैयार स्मृति चिन्ह और मिलेट्स की टोकरी भेंट कर पीएम का स्वागत किया।

पूर्व सीएम रमन सिंह ने किया पीएम का स्वागत

पीएम मोदी वायुसेना के विशेष विमान से सुबह 10 बजे रायपुर एयरपोर्ट पहुंचे। यहां पूर्व मुख्‍यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह ने उनका स्‍वागत किया। इसके बाद पीएम हेलीकाप्‍टर से साइंस कालेज मैदान स्थित सभास्‍थल के लिए रवाना हो गए।

पीएम मोदी की यात्रा से कार्यकर्ताओं में आएगी ऊर्जा

छत्तीसगढ़ भाजपा के नेताओं का मानना है कि पीएम मोदी की यात्रा से पार्टी कार्यकर्ताओं में ऊर्जा आएगी, जो राज्य में चुनाव की तैयारी कर रहे हैं। छत्तीसगढ़ में 15 साल तक सत्ता पर काबिज रहने के बाद पार्टी 2018 में विधानसभा चुनाव हार गई थी।

10 बजकर 45 मिनट पर होगा कार्यक्रम

एक अधिकारी ने गुरुवार को बताया कि प्रधानमंत्री का कार्यक्रम यहां साइंस कॉलेज मैदान में सुबह 10.45 बजे होगा। उन्होंने कहा,

प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राजमार्ग 30 के 33 किलोमीटर लंबे रायपुर-कोडेबोड़ खंड के चार लेन और एनएच-130 के 53 किलोमीटर लंबे चार लेन वाले बिलासपुर-पथरापाली खंड को राष्ट्र को समर्पित करेंगे। इसके साथ ही, वे छह लेन वाले रायपुर-विशाखापत्तनम आर्थिक गलियारे NH-130 सीडी के एक हिस्से के रूप में तीन खंडों झांकी-सरगी (43 किमी), सरगी-बासनवाही (57 किमी) और बसनवाही-मारंगपुरी (25 किमी) के निर्माण के आधारशिला भी रखेंगे।

प्रधानमंत्री 750 करोड़ रुपये की लागत से बनी 103 किलोमीटर लंबी रायपुर-खरियार रोड रेल लाइन के दोहरीकरण, केवटी-अंतागढ़ को जोड़ने वाली 17 किमी लंबी नई रेलवे लाइन और कोरबा में 130 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से 60,000 मीट्रिक टन प्रति वर्ष की क्षमता वाला इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन का एक बॉटलिंग प्लांट भी राष्ट्र को समर्पित करेंगे।

इसके अलावा, प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना के तहत लाभार्थियों को 75 लाख कार्डों के वितरण की शुरुआत करेंगे और अंतागढ़ (कांकेर जिला) से रायपुर के लिए एक नई ट्रेन को हरी झंडी दिखाएंगे। इसके बाद पीएम उसी स्थान पर एक जनसभा को भी संबोधित करेंगे। 

सुरक्षा के कड़े इंतजाम

पुलिस ने बताया कि कार्यक्रम स्थल पर व्यापक सुरक्षा घेरा लगाया गया है। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि शहर के मध्य में स्थित इस इलाके में बहुस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की गई है, जिसमें राज्य पुलिस के कर्मियों के अलावा विशेष सुरक्षा समूह (एसपीजी) की टुकड़ियां भी शामिल हैं। 

रायपुर में बारिश के बीच सभास्थल पर पहुंच रहे कार्यकर्ता

रायपुर में आज सुबह से लगातार बारिश हो रही है। पीएम मोदी के दौरे को लेकर भाजपा कार्यकर्ताओं में जबरदस्‍त उत्‍साह देखने को मिल रहा है। बारिश के बीच सुबह से ही कार्यकर्ताओं का सभास्‍थल पर पहुंचने का सिलसिला जारी है। इसमें बड़ी संख्‍या में महिलाएं शामिल है।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.