नईदुनिया प्रतिनिधि, रायपुर।  'माय सिटी माय प्राइड' के रायपुर में हुए फोरम में समस्याओं को समाधान के लिए रखा गया तो जिम्मेदार जनप्रतिनिधियों और अफसरों ने घोषणाओं की झड़ी लगा दी। फोरम का उद्देश्य था कि 11 महत्वपूर्ण सुझावों पर फैसला हो जाए, मगर इसकी संख्या बढ़ कर 15 पहुंच गई। वहीं 14 सुझावों को भी सरकार और प्रशासन के प्रतिनिधियों ने विचारार्थ स्वीकार कर लिया। कुछ मसलों पर संबंधित पक्षों से विचार- विमर्श पर भी सहमति बनी।

रायपुर पश्चिम के विधायक और लोक निर्माण मंत्री राजेश मूणत ने राजधानी में दिव्यांग हॉस्टल को महती आवश्यकता बताते हुए तत्काल सहमति दी। साथ ही सरकारी भवनों में दिव्यांगों का ख्याल रखते हुए सुविधाएं दिलाने का ऐलान किया। रायपुर नगर निगम के मेयर प्रमोद दुबे ने घोषणा की है कि जनता ही कोई बगीचा चयनित कर ले, जिसका उद्धार किया जाना है। उसके लिए वे महापौर निधि से 15 लाख रुपये देंगे। मेयर ने यह भी कहा कि जो काम पार्षद निधि से नहीं हो पाएगा, उसके लिए महापौर निधि से फंड दिया जाएगा।

 

राजधानी के एक होटल में हुए फोरम में नागरिकों ने बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया। मंत्री और अफसरों पर विकास से जुड़े सवाल दागे, सवाल के अनुरूप ही अतिथियों ने जवाब दिया। फोरम से पहले माय सिटी माय प्राइड अभियान के तहत रीयल हीरो और विशेषज्ञों की स्टोरी प्रकाशित की गई। साथ ही हर सप्ताह राउंड टेबल कांफ्रेंस में विशेषज्ञों को बुला कर प्राप्त सुझावों पर बहस कराई गई। इसी के बाद रायपुर शहर के विकास के लिए सुझाव आते गए। अंत में इसे फोरम में रख कर फैसला भी लिया गया।

इंफ्रा पिलर में लोक निर्माण मंत्री मूणत व मेयर दुबे, इकॉनामी पिलर में छत्तीसगढ़ राज्य औद्योगिक विकास निगम के अध्यक्ष छगनलाल मुंदड़ा, हेल्थ पिलर में स्वास्थ्य आयुक्त आर.प्रसन्ना, शिक्षा पिलर में जिला शिक्षा अधिकारी एएन बंजारा और सेफ्टी में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुखनंदन सिंह राठौर ने हिस्सा लिया।

फोरम के प्रारंभ में मंत्री मूणत, रायपुर ग्रामीण विधायक सत्यनारायण शर्मा, सीएसआइडीसी के चेयरमैन मुंदड़ा, नगर निगम के सभापति प्रफुल्ल विश्वकर्मा, शिक्षाविद् जवाहर सूरी सेट्टी, डॉ. राकेश गुप्ता, कैट के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अमर पारवानी ने दीप प्रज्ज्वलित किया। फिर फोरम के उद्देश्यों और प्रक्रिया पर राज्य संपादक आलोक मिश्रा ने प्रकाश डाला। स्वागत भाषण स्थानीय संपादक जयप्रकाश पांडेय ने दिया। फोरम में नईदुनिया के स्टेट हेड वीके दुबे और बिलासपुर के स्थानीय संपादक डॉ. सुनील गुप्ता भी मौजूद थे।

ये 15 फैसले

इंफ्रा
- रायपुर को मिलेगा दिव्यांग सरकारी हॉस्टल
- उद्यान को संवारने महापौर निधि से 15 लाख रुपये
- शास्त्री मार्केट में कचरा निष्पादन दो माह के भीतर
- सरकारी स्कूलों से कचरा उठाने का आदेश तत्काल
- महिला थाना से छोटापारा गौरव पथ योजना दूसरे चरण में लेने प्रक्रिया शुरू करेंगे
- जेपी पांडे सरकारी स्कूल में टायलेट बढ़ाने का प्रस्ताव मंजूर

हेल्थ
- रायपुर के आसपास के अस्पतालों में बढ़ाएंगे स्टाफ
- शहर के स्वास्थ्य केंद्रों को करेंगे मजबूत
- मैसूर की संस्था से अनुबंध कर जल्द ही देंगे स्पीच थैरेपी का प्रशिक्षण

शिक्षा
- सरकारी स्कूलों में भी पैरेंट्स-टीचर मीटिंग होगी अनिवार्य
- सेवा भावना से स्कूलों में जाकर बच्चों को पढ़ाने के इच्छुक लोगों के लिए एप जल्द

सेफ्टी
- पुलिस मित्र जैसे समूहों का थाना स्तर पर गठन की प्रक्रिया शुरू होगी
- शांति समिति की बैठकें हर दो माह में करने पर सहमति
- साइबर ठगी के शिकार की मदद के लिए थाने के अमल को देंगे प्रशिक्षण
- बच्चों को नशामुक्त करने व हेलमेट के लिए पुलिस का डियर जिंदगी अभियान घर-घर पहुंचेगा

ये प्रस्ताव शासन को भेजेगा उद्योग निगम
- उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए सिंगल विंडो
- सराफा कारोबारियों को कुशल कारीगर मिले, इसके लिए जेम्स एंड ज्वेलरी कोर्स जल्द शुरू किया जाए
- ऑटोमोबाइल के लिए मैन्युफैक्चरिंग हब बनाने पर जोर हो
- ऑनलाइन कंपनियों पर निगाह रखने के लिए नियम बने

अभियान इस तरह चला
- लगातार 82 दिनों तक नई दुनिया और सोशल मीडिया पर कवरेज
- जनता की लाइक के आधार पर पिलरवाइज शहरों की रैकिंग
- 10 रीयल हीरो और 15 विशेषज्ञों की राय ली
- 9 सप्ताह में 9 राउंड टेबल कांफ्रेंस हुई
- 91 अतिथियों ने आरटीसी में लिया भाग

 

By Krishan Kumar