रायपुर। Chhattisgarh News: छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में कौशल विकास प्राधिकरण के माध्यम से मुख्यमंत्री कौशल विकास योजना के अंतर्गत सिलाई मशीन, कंप्यूर आपरेटर जैसे विभिन्न ट्रेडों का प्रशिक्षण प्रदान कर बेरोजगार युवक-युवतियों का कौशल विकास कर उन्हें रोजगार उपलब्ध कराया जा रहा है।

मुख्यमंत्री कौशल विकास योजना ने सच किया सपना

इसी कड़ी में जिले की कुनकुरी विकासखंड के ग्राम कुरकुंगा की रहने वाली नंद कुमारी के रोजगार प्राप्त करने के सपने को मुख्यमंत्री कौशल विकास योजना ने सच कर दिखाया है। नंद कुमारी को योजना के तहत अबिनाश इनटरप्राइजेस प्राइवेट लिमिटेड से सेविंग मशीन आपरेटर (सिलाई) के ट्रेड में प्रशिक्षण प्रदान किया गया। प्रशिक्षण के उपरांत हितग्राही का नियोजन केपीआर सुगर एंड ऐपेरल लिमिटेड, तिरूपुर में हो गया। जहां उन्हें निशुल्क आवासीय सुविधा के साथ 8500 रुपये प्रतिमाह मासिक वेतन प्राप्त हो रहा है।

बचपन से ही थी ये ख्वाहिश

हितग्राही युवती ने बताया कि उनके परिवार में माता-पिता के साथ ही दो भाई हैं। उनके पिता खेती-किसानी कर परिवार का पालन पोषण करते हैं। परिवार की आय का मुख्य साधन खेती ही है। परंतु छोटे किसान होने के कारण परिवार की जरूरतों को पूरा करने में दिक्कतें आती थी। इसलिए वे बचपन से ही अपने परिवार की आर्थिक स्थिति सुधारने और परिवार का सहारा बनना चाहती थी। हितग्राही ने बताया कि बारहवीं कक्षा की पढ़ाई पूर्ण करने के उपरांत वे अपने पैर में खड़े होना चाहती थी, इसके लिए वो प्रयासरत थी।

परिवार का बनी सहारा

इसी दौरान उन्हें मुख्यमंत्री कौशल विकास योजना के बारे में पता चला जिसके बाद नंद कुमारी ने योजना से जुड़कर लाभ लिया। मुख्यमंत्री कौशल विकास योजना के द्वारा उन्हें एक नया हुनर प्रदान करते हुए उनका कौशल विकास किया गया और उसमें वह निपुण भी हो गई। नंद कुमारी ने बताया कि इस हुनर से उन्हें रोजगार प्राप्त हुआ है। अब वह अपने परिवार का सहारा बन गई है। जिससे वह अपने परिवार के साथ ही अपनी जरूरतों को भी पूरा कर रही है। उन्होंने रोजगार के अवसर दिलाने के लिए जिला प्रशासन और छत्तीसगढ़ शासन के प्रति आभार प्रकट करते हुए धन्यवाद दिया। 

यह भी पढ़ेंः दत्तक संतानों से घर में आई खुशहाली, अभिभावकों ने साझा किए अनुभव

Edited By: Sachin Kumar Mishra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट