रायपुर, जागरण डिजिटल डेस्क। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राज्य की बेटियों को सशक्त और सुरक्षित करने के उद्देश्य से 'हमर बेटी- हमर मान' नाम के अभियान की शुरुआत की है। ट्विटर पर इसकी जानकारी देते हुए सीएम बघेल ने कहा कि बेटियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए छत्तीसगढ़ सरकार 'हमर बेटी- हमर मान' अभियान प्रारंभ करने जा रही है। जिस समाज में बेटियां सुरक्षित और सशक्त हों, वह समाज निरंतर प्रगति के पथ पर अग्रसर होता है।

इस अभियान को लेकर जानकारी साझा करते हुए सीएम ने बताया कि 'हमर बेटी-हमर मान' के तहत छत्तीसगढ़ पुलिस की महिला अधिकारी व कर्मचारी प्रदेश के सभी जिलों के स्कूल-कॉलेजों में जाकर बेटियों को उनके कानूनी अधिकार, गुड और बैड टच, छेड़खानी, यौन शोषण, साइबर क्राइम, सोशल मीडिया क्राइम से बचाव और अधिकार जैसी बातों पर मार्गदर्शन और संवाद करेंगी। 

इसके साथ ही सभी गर्ल्स स्कूल, कॉलेजों और महिलाओं की उपस्थिति वाली प्रमुख जगहों पर पुलिस की स्पेशल महिला पेट्रोलिंग लगाई जाएगी। सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि हमर बेटी- हमर मान के तहत राज्य की बेटियों को लिए एक हेल्पलाइन नंबर भी जारी की जाएगी, जिस पर शिकायत करने से प्राथमिकता पर कार्रवाई होगी।

यह भी पढ़ें- CG News: देश के अन्य राज्यों में भी ‘छत्तीसगढ़ हर्बल्स’ की धूम, महाराष्ट्र और गोवा में बिक्री के लिए लगेंगी दुकानें

सीएम ने आगे बताया कि हमने तय किया है कि महिला संबंधी अपराधों की विवेचना प्राथमिकता के आधार पर महिला विवेचकों से ही करवायी जाएगी, साथ ही ऐसे अपराधों की विवेचना निर्धारित समय में पूरी होकर चालान पेश हो जाए, ये सुनिश्चित करने का दायित्व आई. जी. रेंज को होगा।

यह भी पढ़ें- Swachh Survekshan: स्वच्छ भारत मिशन में उत्कृष्ट कार्यों के लिए छत्तीसगढ़ को मिले चार राष्ट्रीय पुरस्कार

Edited By: Aditi Choudhary