नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। इंटरनेट बैंकिंग ने कई लोगों के जीवन को काफी आसान बना दिया है। अधिकांश बैंकिंग सुविधाएं 24x7 के तहत काम करती हैं। इंटरनेट बैंकिंग के जरिये बिल भुगतान, फंड ट्रांसफर, फिक्स्ड डिपॉजिट (एफडी) खोलना आदि बहुत आसानी से हो जाता है।

देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने एक नई सुविधा शुरू की है, जिसके जरिये ग्राहक नेट बैंकिंग एक्सेस को लॉक और अनलॉक कर सकते हैं। नेट बैंकिंग खाते को लॉक करने से अकाउंट डिसेबल हो जाएगा और वह भी इस तरह जैसे कि यूजर ने कभी नेट बैंकिंग का इस्तेमाल किया ही न हो।

भारतीय स्टेट बैंक की आधिकारिक वेबसाइट के अनुसार, 'अपने खाते की सुरक्षा के लिए, आप होम/लॉगइन पेज में उपलब्ध लिंक 'लॉक एंड अनलॉक यूजर' के माध्यम से अपने INB एक्सेस को लॉक या अनलॉक कर सकते हैं।' यह सुविधा केवल रिटेल यूजर्स के लिए उपलब्ध है, इसलिए कॉर्पोरेट यूजर्स इस सुविधा का लाभ नहीं ले सकते।

इंटरनेट बैंकिंग सुविधा को कैसे बंद करें

बैंक की वेबसाइट पर जाएं

www.onlinesbi.com पर जाएं। 'लॉक और अनलॉक यूजर्स' खोजें।

'लॉक एंड अनलॉक यूजर' पर क्लिक करें

'लॉक एंड अनलॉक यूजर' आप्शन पर क्लिक करें। एक नया विंडो खुलेगा। ड्रॉप डाउन मेनू से, 'लॉक यूजर एक्सेस' विकल्प चुनें। अब, अपने डिटेल जैसे कि इनरनेट बैंकिंग यूजरनेम, खाता संख्या और कैप्चा कोड दर्ज करें।

अब न्यू पॉप-अप विंडो खुलेगी

डिटेल सबमिट करने के बाद एक नया पॉप-अप खुल जाएगा। इसमें तीन पॉइंट दिखाए जाएंगे-

(i) यदि आपको ऐसा लगता है कि आपके खाते में कोई अनधिकृत पहुंच/लेन-देन हो रहा है, तो आप अपनी इंटरनेट एक्सेस को लॉक कर सकते हैं।

(ii) यूजर द्वारा निर्धारित कोई भी लेन-देन और स्थायी निर्देश सक्रिय रहेंगे और इन प्रक्रियाओं में कोई बदलाव नहीं होगा।

(iii) OK पर क्लिक करने से आपकी इंटरनेट एक्सेस लॉक हो जाएगा और आप कोई भी इंटरनेट बैंकिंग लेनदेन नहीं कर पाएंगे।

'ओके' पर क्लिक करें। अब रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर और ईमेल-आईडी पर एक ओटीपी (वन-टाइम पासवर्ड) भेजा जाएगा। अगर खाता जॉइंट है तो प्राइमरी खाता धारक के मोबाइल नंबर पर ओटीपी भेजा जाएगा।

ओटीपी डालते ही आपकी इंटरनेट बैंकिंग लॉक हो जाएगी।

इंटरनेट बैंकिंग सुविधा को कैसे अनलॉक करें

  • बैंक की वेबसाइट Www.onlinesbi.com पर जाएं। 'लॉक और अनलॉक यूजर्स' आप्शन का पता लगाएं।
  • 'लॉक एंड अनलॉक यूजर' विकल्प पर क्लिक करें। एक नया विंडो खुलेगा। ड्रॉप डाउन मेनू से 'अनलॉक यूजर एक्सेस' का चयन करें। उसके बाद, अपना डिटेल डालें जैसे कि इंटरनेट बैंकिंग यूजर्स का नाम, खाता संख्या और कैप्चा कोड।
  •  
  • रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी पर एक ओटीपी भेजा जाएगा।
  • वेबसाइट यह पूछेगी कि क्या आप 'बैंकिंग पासवर्ड के जरिए' या 'होम ब्रांच के जरिए' इंटरनेट बैंकिंग एक्सेस अनलॉक करना चाहते हैं।
  • चुने हुए 'प्रोफाइल पासवर्ड विकल्प के माध्यम से' प्रोफाइल पासवर्ड डालें और सबमिट पर क्लिक करें। यदि आप बैंक शाखा के माध्यम से अपने इंटरनेट बैंकिंग को अनलॉक करना चाहते हैं, तो आपको अपने होम ब्रांच पर जाना होगा।
  • प्रोफाइल पासवर्ड डालने के बाद आपकी इंटरनेट बैंकिंग एक्सेस अनलॉक हो जाएगी। 

Posted By: Nitesh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप