नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। आप पीएम किसान योजना के लाभार्थी हैं, तो आपको यह जानकारी होगी कि पीएम नरेंद्र मोदी ने हाल में इस योजना की नौवीं किस्त किसानों के खाते में सीधे ट्रांसफर की है। यह किस्त अब किसानों के खातों में पहुंचने लगी है। लेकिन क्या आपके स्टेटस चेक करने पर यह मैसेज लिखा हुआ आ रहा है- FTO is Generated and Payment confirmation is pending तो हम आप यह सोच रहे होंगे कि वास्तव में इसका मतलब क्या हुआ। पीएम किसान के बेनिफिशियरी के लिए इस बात की जानकारी होना अहम है।

इस मैसेज का मतलब

अगर आपके मोबाइल पर यह मैसेज आ रहा है 'FTO is Generated and Payment confirmation is pending,' तो इसका स्पष्ट मतलब है कि नौवीं किस्त जल्द ही आपके अकाउंट में क्रेडिट हो जाएगी और आपको परेशान होने की बिल्कुल कोई जरूरत नहीं है। दरअसल, FTO की फुल फॉर्म Fund Transfer Order होता है।

इसका सीधा मतलब यह है कि राज्य सरकार की ओर से लाभार्थी के बैंक खाते की संख्या, आईएफएससी कोड और आधार नंबर की पूरी तरह से जांच कर ली गई है। इन सबके बाद सरकार की ओर से पेमेंट ऑर्डर जारी कर दिया गया है। अगले कुछ दिनों में आपके अकाउंट में दो हजार रुपये की नौवीं किस्त आ जाएगी।

ऐसे चेक कर सकते हैं स्टेटस

1. सबसे पहले पीएम किसान योजना की ऑफिशियल वेबसाइट https://pmkisan.gov.in/ पर लॉग ऑन कीजिए।

2. अब सबसे दाईं ओर आपको 'Farmers Corner' दिखेगा।

3. यहां 'Beneficiary Status' के लिंक पर क्लिक कीजिए।

4. अब आधार नंबर, मोबाइल नंबर या अकाउंट नंबर में से कोई एक ऑप्शन सेलेक्ट कीजिए।

5. आपने जिस नंबर को चुना है, उसे सेलेक्ट कीजिए और फिर 'Get Data' पर क्लिक कीजिए।

6. आपके सामने स्कीम की पूरी जानकारी आ जाएगी।

काफी महत्वाकांक्षी है यह स्कीम

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना केंद्र सरकार की अति महत्वाकांक्षी योजना है। इस योजना के तहत केंद्र सरकार लाभार्थी किसानों को हर साल तीन बराबर किस्त में कुल छह हजार रुपये की रकम हस्तांतरित करती है। यह किस्त डीबीटी स्कीम के तहत सीधा किसानों के खातों में ट्रांसफर की जाती है।

हालांकि, सरकारी अधिकारी, संसद या विधानसभा या विधान परिषद के सदस्य और डॉक्टर या इंजीनियर जैसे प्रोफेशनल खेती-किसानी करने के बावजूद इस स्कीम का लाभ नहीं उठा सकते हैं। 10 हजार रुपये से अधिक की मासिक पेंशन प्राप्त करने वाले और पिछले वित्त वर्ष में इनकम टैक्स का भुगतान करने वाले भी प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत सालाना छह हजार रुपये प्राप्त करने के पात्र नहीं होते हैं।

Edited By: Ankit Kumar