नई दिल्‍ली, पीटीआइ। Covid 19 mahamari के कारण कंपनियों की असाधारण आम बैठक (EGM) को virtual तरीके से कराने की छूट मिल गई है। कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय ने कहा कि कंपनियां महामारी के कारण वीडियो कांफ्रेन्सिंग या दूसरे Virtual तरीकों के जरिये इस साल के अंत तक कर सकते हैं। कॉरपोरेट कार्य मंत्रालय ने महामारी के बीच यह समयसीमा बढ़ाई है। अबतक मंत्रालय ने इस साल 30 जून इस प्रकार की छूट दी थी।

मंत्रालय ने सर्कुलर में कहा कि बातचीत के बाद, यह फैसला किया गया कि कंपनियों को 31 दिसंबर, 2021 तक वीडियो कांफ्रेन्सिंग या दूसरे माध्यमों से EGM आयोजित करने या डाक मतपत्र से विषयों पर फैसले करने की इजाजत दी जाए।

इसी महीने हुआ फैसला

इस महीने की शुरुआत में मंत्रालय ने कहा था कि कंपनियों के निदेशक मंडल वित्तीय ब्योरा और विलय-अधिग्रहण समेत अन्य मामलों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से मंजूरी दे सकते हैं।

Covid mahamari बना कारण

बता दें कि महामारी के मद्देनजर बीते साल अप्रैल में पहली बार EGM को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से करने की इजाजत दी गई थी। बाद में, इस छूट को बार-बार बढ़ाया गया। इससे पहले बाजार नियामक Sebi ने 2020 में शेयर बाजार (Share Market) में लिस्‍टेड कंपनियों (Listed Companies) के लिए वार्षिक आम सभा (AGM) करने और अखबारों में विज्ञापन देने के नियम से छूट दी थी।

टॉप कंपनियों को मिली थी छूट

Sebi ने सूचीबद्ध कंपनियों और अन्य बाजार इकाइयों के लिए कानून अनुपालन का बोझ घटाने के प्रयासों के तहत इन नियमों में ढील दी थी। Sebi ने अपने सर्कुलर में कहा था कि मार्केट कैप के हिसाब से 100 शीर्ष Listed companies को AGM से छूट मिली थी।

Edited By: Ashish Deep