नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। आधार कार्ड हर भारतीय नागरिक के लिए एक जरूरी दस्तावेज है। अगर किसी व्यक्ति के पास आधार कार्ड नहीं है तो उसे जरूर बनवा लेना चाहिए क्योंकि बिना आधार कार्ड के बहुत से काम हैं, जो आप नहीं कर पाएंगे। अगर बिल्कुल स्पष्ट शब्दों में कहें तो मौजूदा समय में आधार कार्ड आपकी आधिकारिक पहचान के रूप में काम करता है। बैंक आदि से जुड़े तमाम कामों के लिए आधार कार्ड अनिवार्य है और बिना आधार कार्ड के यह काम नहीं हो सकेंगे। हालांकि, हर समय आधार कार्ड को अपने साथ लेकर घूमने से उसके चोरी होने या खो जाने का खतरा भी होता है। ऐसे में कोई सबसे सुरक्षित तरीका है कि ई-आधार कार्ड का इस्तेमाल किया जाए।

eAadhaar Card क्या है?

आधार कार्ड की इलेक्ट्रॉनिक कॉपी को ई-आधार आधार (eAadhaar Card) कहते हैं। यह पासवर्ड से सुरक्षित होता है और यूआईडीएआई द्वारा डिजिटल रूप से हस्ताक्षरित किया गया होता है। बता दें कि यूआईडीएआई ही आधार कार्ड जारी करने वाली संस्था है।

eAadhaar Card के फायदे

आधार कार्ड का सबसे बड़ा फायदा है कि इसमें चोरी होने या खो जाने का खतरा नहीं होता जबकि सामान्य आधार कार्ड के साथ यह खतरे बने रहते हैं। इसके अलावा ई-आधार कार्ड को कभी भी और कहीं भी एक्सेस किया जा सकता है क्योंकि आप इसे डाउनलोड करके अपने मोबाइल फोन में रख सकते हैं।

ई-आधार कार्ड के मोबाइल फोन में होने के कारण इसे घर पर भूलने या किसी और जगह पर इसके छूट जाने की संभावना खत्म हो जाती है जबकि सामान्य आधार कार्ड के साथ यह संभावना बनी रहती है, जिससे किसी भी व्यक्ति के ऐसे जरूरी काम प्रभावित हो सकते हैं, जिनके लिए आधार कार्ड अनिवार्य हो।

eAadhaar Card कैसे काम करता है?

ई-आधार कार्ड ठीक वैसे ही काम करता है, जैसे सामान्य आधार कार्ड काम करता है। जहां भी सामान्य आधार कार्ड स्वीकार किया जाता है, वहां ई-आधार कार्ड भी स्वीकार किया जाएगा। इसे mAadhaarApp से डाउनलोड किया जा सकता है।

Edited By: Lakshya Kumar