नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। कोरोना माहमारी के कारण पिछले कुछ सालों में भारत में मेंटल हेल्थ से जुड़े मामलों में काफी इजाफा हुआ है। आज WorldMentalHealthDay के मौके पर आज हम आपको ऐसी इंश्योरेंस के बारे में बताएंगे, जिसके जरिए आप मेंटल हेल्थ से जुड़े खर्चों को कवर कर पाएंगे।

आज से कुछ समय पहले तक हेल्थ इंश्योरेंस कंपनियों की ओर से मेंटल हेल्थ को इंश्योरेंस में कवर नहीं किया जाता था। लेकिन अब इस ट्रेंड में धीरे-धीरे बदलाव आ रहा है और कई हेल्थ इंश्योरेंस कंपनियों के द्वारा अब इसे इंश्योरेंस पॉलिसियों में शामिल किया जाने लगा है। बता दें, ये बदलाव भारतीय बीमा नियामक और विकास प्राधिकरण (IRDAI) के निर्देशों के बाद आना शुरू हुआ है, जिसमें इंश्योरेंस कंपनियों से मेंटल हेल्थ को इंश्योरेंस पॉलिसियों में शामिल करने के लिए कहा गया था।

इन कंपनियों ने देना शुरू किया इंश्योरेंस कवर

IRDAI के निर्देशों के बाद कुछ कंपनियों ने अपनी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसियों में मेंटल हेल्थ को भी कवर करना शुरू कर दिया है। मौजूदा समय में मैक्स बूपा हेल्थ इंश्योरेंस, आईसीआईसीआई लोम्बार्ड, आदित्य बिड़ला हेल्थ इंश्योरेंस कंपनी, एचडीएफसी एर्गो जनरल इंश्योरेंस और डिजिट जनरल इंश्योरेंस जैसी कंपनियों ने मेंटल हेल्थ से जूझ रहे लोगों के लिए स्पेशल हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी भी बनाना शुरू कर दिया है।

हेल्थ इंश्योरेंस लेने से पहले रखें इन बातों का ध्यान

अगर आप हेल्थ इंश्योरेंस कवर में मेंटल हेल्थ को भी शामिल कर रहे हैं, तो आपको कुछ बातों को ध्यान में रखना चाहिए। पहला उसमें हॉस्पिटलाइजेशन कवर होना चाहिए। दूसरा ओपीडी भी कवर होनी चाहिए। इसका फायदा यह होगा कि आप हॉस्पिटल में दिखाने जाते हैं, तो आपके सभी खर्चें इंश्योरेंस में कवर होंगे।

ये भी पढ़ें-

LIC Jeevan Umang: सिर्फ 45 रुपये जमा करके जिंदगी भर पाएं 36 हजार सालाना, जानें इस पॉलिसी के फायदे

Health Insurance को लेकर लोगों में बढ़ी जागरूकता, प्रीमियम कलेक्शन में हुआ 28 फीसदी इजाफा

जानें मार्केट के Top 5 स्टॉक्स जो देंगे शानदार रिटर्न्स - https://bit.ly/3RxtVx8

"

Edited By: Abhinav Shalya

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट