Move to Jagran APP

Budget 2023: रक्षा मंत्रालय को मिली सबसे ज्यादा राशि, जानें गृह-स्वास्थ्य-शिक्षा का क्या रहा हाल

इस साल के बजट में सबसे ज्यादा राशि रक्षा मंत्रालय को जारी हुई है। राजनाथ सिंह के मंत्रालय को कुल 5.94 लाख करोड़ रुपये की राशि प्राप्त हुई है। इसके बाद दूसरे नंबर सड़क एवं परिवहन मंत्रालय रहा। (फोटो- जागरण)

By Shivani KotnalaEdited By: Shivani KotnalaPublished: Thu, 02 Feb 2023 05:28 PM (IST)Updated: Thu, 02 Feb 2023 05:28 PM (IST)
Budget 2023 Defense Ministry got maximum funds, Pic courtesy- jagran graphics

नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। Business 2023: बीते बुधवार को संसद में वित्त वर्ष 2023-24 का यूनियन बजट पेश किया गया है। यह बजट मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का आखिरी बजट था, क्योंकि अगले साल लोकसभा चुनाव होने जा रहे हैं।

loksabha election banner

यही वजह रही कि इस बार के बजट पर हर आम से खास व्यक्ति की नजर बनी हुई थी। सरकार ने इस बार 45 लाख करोड़ रुपये का बजट पेश किया है। चलिए जानते हैं सरकार ने रक्षा, रेल, रोड, स्वास्थ्य और शिक्षा मंत्रालय को इस बार कितना फंड जारी किया है।

इन मंत्रालयों का रहा पहला दूसरा और तीसरा नंबर

इस साल के बजट में सबसे ज्यादा राशि रक्षा मंत्रालय को दी गई है। राजनाथ सिंह के मंत्रालय को कुल 5.94 लाख करोड़ रुपये की राशि प्राप्त हुई है। इस राशि में से 2.70 लाख करोड़ रुपये का फंड आर्मी, नेवी और एयरफोर्स तीन विंग के खर्चे के लिए जारी किया गया है। जबकि बाकी की राशि मंत्रालय से जुड़े दूसरे खर्चों के लिए रखी गई है।

दूसरे नंबर सड़क एवं परिवहन मंत्रालय को सबसे ज्यादा राशि जारी की गई है। नितिन गडकरी के मंत्रालय को कुल 2.70 लाख करोड़ का खर्च दिया गया है। इस साल के बजट में तीसरे नंबर रेल मंत्रालय को सबसे ज्यादा राशि दी गई है। अश्विनी वैष्णव के मंत्रालय को कुल 2.41 लाख करोड़ रुपये का खर्च दिया गया है।

अमित शाह के नेतृत्व में गृह मंत्रालय को दी गई इतनी राशि

अमित शाह के नेतृत्व में गृह मंत्रालय को इस बार के बजट में 1.96 लाख करोड़ रुपये की राशि दी गई है। इस राशि का एक बड़ा हिस्सा 1.27 लाख करोड़ पुलिस पर खर्च किया जाएगा। जबकि राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली पर 1168 करोड़ रुपये खर्चे जाएंगे।

इस बार के बजट में स्वास्थ्य और शिक्षा पर ही खर्ची जाएगी ज्यादा राशि

साल 2023-24 के बजट में शिक्षा मंत्रालय को 1.12 लाख करोड़ रुपये का खर्च दिया गया है। धर्मेंद्र प्रधान के मंत्रालय को इस बार पहले से ज्यादा फंड जारी किया गया है। इसी तरह स्वास्थ्य मंत्रालय को 89,155 करोड़ रुपये का खर्च दिया गया है। यह मंत्रालय वर्तमान में मनसुख मंडाविया के अंडर है।

ये भी पढ़ेंः Union Budget 2023 Effect: अमीर हो या गरीब, जानिए बिगड़ा महीने का बजट या जेब में रहेगी हरियाली

Budget 2023: सरकार ने बताया किन लोगों के लिए फायदेमंद होगा New Tax Regime, ये है प्लान

 


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.