नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। अपने ग्राहकों की सुरक्षा को देखते हुए भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने योनो और योनो लाइट में एक नई और सुरक्षा सुविधा 'सिम बाइंडिंग' लॉन्च की है। यह ग्राहकों को विभिन्न डिजिटल धोखाधड़ी से बचाएगा। सिम बाइंडिंग फीचर के साथ योनो और योनो लाइट केवल उन्हीं डिवाइस पर काम करेंगे, जिनके मोबाइल नंबर की सिम बैंक में रजिस्टर्ड है।

ग्राहकों को इस सुविधा का लाभ लेने के लिए योनो और योनो लाइट के नए वर्जन तक पहुंचने के वास्ते यूजर्स को अपने मोबाइल ऐप को अपडेट करना होगा और इन ऐप पर एक बार रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया को पूरा करना होगा। रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पूरा करने के लिए बैंक के साथ रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर का होना जरूरी है। ग्राहकों को यह सुनिश्चित करना होगा कि वे उस डिवाइस के साथ खुद को रजिस्टर्ड करें जिसमें रजिस्टर्ड कॉन्टैक्ट नंबर का सिम है।

SBI के राणा आशुतोष कुमार सिंह, डीएमडी (रणनीति) और मुख्य डिजिटल अधिकारी, ने कहा कि हमें SBI के दो सबसे लोकप्रिय प्लेटफार्मों यानी योनो और योनो लाइट में सिम बाइंडिंग सुविधा शुरू करने पर खुशी है। इस नई सुविधा के साथ, हमारा उद्देश्य अपने सभी ग्राहकों को बेहतर सुरक्षा देना और उन्हें सुविधाजनक और सुरक्षित ऑनलाइन बैंकिंग अनुभव देना है। हम SBI में हमेशा ग्राहकों को उनके घरों से आराम से डिजिटल बैंकिंग सेवाएं लेने के लिए प्रोत्साहित करने का प्रयास करते हैं।

SBI YONO Lite App के लिए कैसे करें रजिस्टर

  • इसके लिए आपको Google Play Store या Apple App Store से SBI योनो लाइट ऐप डाउनलोड करना होगा।
  • रजिस्ट्रेशन के वक्त उस सिम का इस्तेमाल करना होगा जिससे संबंधित बैंक खाता जुड़ा है।
  • अब यूजर को मोबाइल नंबर के वेरिफिकेशन के लिए एक SMS मिलेगा।
  • टर्म एंड कंडीशन्स स्वीकार करने के बाद ओके बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको एक एक्टिवेशन कोड मिलेगा। यह एक्टिवेशन कोड 30 मिनट के लिए ही एक्टिवेट होगा।
  • इस कोड को एप में लिखने के बाद एक्टिवेशन की प्रक्रिया पूरी कर सकते हैं।

Edited By: Nitesh