नई दिल्ली (एजेंसी/बिजनेस डेस्क)। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की तीन दिवसीय नीतिगत बैठक आज से शुरू हो रही है। रॉयटर्स के पोल के मुताबिक गुरुवार को बैठक खत्म होने के बाद आरबीआई ब्याज दरों में लगातार दूसरी बार कटौती कर सकता है।

पिछले साल दिसंबर में शक्तिकांत दास के आरबीआई का गवर्नर नियुक्त किए जाने के बाद ब्याज दरों में कटौती की संभावना मजबूत हुई है। फरवरी महीने में हुई बैठक में आरबीआई ब्याज दरों में कटौती के साथ ही नीतिगत रुख में भी बदलाव करते हुए इसे ''सख्त'' से ''न्यूट्रल'' कर चुका है।

पिछले हफ्ते किए गए पोल में शामिल 70 अर्थशास्त्रियों में से करीब 85 फीसद ने माना कि 4 अप्रैल को आरबीआई रेपो रेट में 25 आधार अंकों की कटौती करते हुए इसे 6 फीसद के स्तर पर ला सकता है।

गौरतलब है कि पिछले सात महीनों के दौरान महंगाई दर आरबीआई के टारगेट 4 फीसद (+-दो फीसद) से नीचे ही रही है। माना जा रहा है कि इस वित्त वर्ष में भी महंगाई 4 फीसद के नीचे ही रह सकती है।

हालांकि, इस बीच अर्थव्यवस्था की रफ्तार में आई सु्स्ती ने चिंता बढ़ा दी है। दिसंबर तिमाही में जीडीपी के 6.6 फीसद होने के बाद सरकार ने चालू वित्त वर्ष के लिए जीडीपी अनुमान को कम कर दिया है।

सरकार ने चालू वित्त वर्ष के लिए 7.2 फीसद जीडीपी का अनुमान रखा था, जिसे घटाकर 7 फीसद किया जा चुका है।

यह भी पढ़ें: NYAY पर पनगढ़िया का बड़ा बयान, कहा इसमें लगेगा केंद्र सरकार के कुल खर्च का 13 फीसद हिस्सा

Posted By: Abhishek Parashar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप