Move to Jagran APP

RBI Repo Rate: रेपो रेट में नहीं हुआ कोई बदलाव, 6.50% ही रहेगा इंटरेस्ट रेट

RBI MPC Meeting भारतीय रिजर्व बैंक हर 2 महीने में तीन दिवसीय मौद्रिक नीति बैठक (Monetary Policy Meeting) आयोजित करता है। 6 फरवरी 2024 से चालू वित्तीय वर्ष की आखिरी एमपीसी मीटिंग शुरू हुई थी। आरबीआई गवर्नर ने इस बैठक में लिए गए अहम फैसलों का एलान किया। चलिए जानते हैं कि इस बार रेपो रेट को लेकर क्या फैसला लिया गया है।

By Priyanka KumariEdited By: Priyanka KumariPublished: Thu, 08 Feb 2024 09:04 AM (IST)Updated: Thu, 08 Feb 2024 09:04 AM (IST)
आरबीआई गवर्नर ने एमपीसी बैठक के फैसलों का एलान किया

बिजनेस डेस्क, नई दिल्ली। RBI MPC MEET 2024 Big Update: देश के केंद्रीय बैंक आरबीआई हर दो महीने के बाद मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक करती है। यह बैठक तीन दिवसीय होती है। इस बैठक की अध्यक्षता आरबीआई गवर्नर करते हैं।

loksabha election banner

6 फरवरी 2024 से आरबीआई की मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक शुरू हुई थी। इस बैठक का फैसला आज आरबीआई गवर्नर द्वारा दिया गया है। इस बैठक में देश के आर्थिक स्थिति और महंगाई को ध्यान में रखकर फैसले लिए जाते हैं।

रेपो रेट में नहीं हुए बदलाव

आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके इस बैठक में लिये गए फैसलों के बारे में बताया है। उन्होंने कहा है कि इस बार रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं किया जाएगा। इसका मतलब है कि रेपो रेट 6.5 फीसदी पर बना रहेगा।

कम नहीं होगी ईएमआई? 

बता दें कि केंद्र सरकार रेपो रेट के दर के हिसाब से बैंक को कर्ज देता है। ऐसे में जब रेपो रेट बढ़ता है तो इसका असर लोन पर पड़ता है। इस वजह से उम्मीद की जा रही है कि रेपो रेट कम होगा जिसकी वजह से लोन की ईएमआई कम हो। 

यह भी पढ़ें : RBI MPC Meet 2024 Highlights: आरबीआई ने रेपो रेट से लेकर महंगाई दर तक पर किए कई बड़े एलान, जानिए एमपीसी बैठक की मुख्य बातें

हालांकि, इस बार भी रेपो रेट को स्थिर रखने का फैसला लिया गया है। पिछली बार फरवरी 2023 को आरबीआई ने रेपो रेट को बदला था। फरवरी में रेपो रेट 6.25 फीसदी से कम करके 6.5 कर दिया। 

यह भी पढ़ें : भारत में 100 अरब डॉलर का निवेश कर सकते हैं कुछ यूरोपीय देश, 10 लाख नई नौकरियां पैदा होने का अनुमान

 


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.