Move to Jagran APP

RBI की मौद्रिक नीति में क्या ब्याज दरों में होगा बदलाव? 6 जून से शुरू होगी MPC की बैठक

RBI Monetary Policy Committee भारतीय रिजर्व बैंक ने पिछले बैठक में रेपो दर को स्थिर रखने का एलान किया था । इस बार केंद्रीय बैंक की बैठक 6 जून से 8 जून तक होगी। आइए जानते हैं इस बार की बैठक को लेकर एक्सपचर्ट की क्या राय है?

By Jagran NewsEdited By: Priyanka KumariSun, 04 Jun 2023 05:14 PM (IST)
RBI Monetary Policy Committee held on 6-8 June

 नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। अगले हफ्ते एक बार फिर से बारतीय रिजर्व बैंक पॉलिसी की समीक्षा करेगा। आरबीआई की बैठक 6 जून से 8 जून तक चलेगी। इस बैठक में विभिन्न दरं पर विचार किया जाएगा। इसका असर आपकी ईएमआई पर पड़ेगा। इस बार लोगों को बढ़त के साथ राहत मिलने की उम्मीद की जा रही है।

रिजर्व बैंक द्वारा पहले बढ़ाई गई दरों का असर दिखने लगा है, दरअसल महंगाई दर में अभी नियंत्रण देखने को मिल रहा है। ऐसा माना जा रहा है कि इस बार भी बैंक मौजूदा दरों के स्थिर रखने का फैसला ले सकता है। कई एक्सपर्ट इसको लेकर पहले ही कह चुके हैं कि अभी दरों में किसी भी तरह की कोई कटौती की उम्मीद नहीं है। पूरी दुनिया में अनिश्चितता की स्थिति बनी हुई है। लेकिन कुछ ऐसे संकेत भी मिल रहे हैं जिससे उम्मीद की जा रही है कि इस साल के अंत तक में दरों में नरमी देखने को मिलेगी या फिर नहीं।

एक्सपर्ट की राय

पीटीआई से बातचीत में बैंक ऑफ बड़ौदा (Bank of Baroda) के अर्थशास्त्री मदन सबनवीस ने कहा कि इस बार उम्मीद है कि आरबीआई दरों को स्थिर बनाए रखेगा। इसके सात ही रेपों दरों को 6.5 फीसदी पर ही स्थिर रखेगा। इनके मुताबिक अप्रैल में महंगाई दर 5 फीसदी से नीचे थी और मई में महंगाई में कमी का अनुमान है।

पहले की गई बढ़त का असर देखने को मिल रहा है इसलिए अब दरों को बढ़ाने की जरूरत नहीं है। महंगाई को कंट्रोल में रखने के लिए दरों को इन्हीं स्तर पर रखना जरूरी है।

बैक ऑफ इंडिया (Bank Of India) के एमडी रजनीश कर्नाटक ने कहा है कि पहले कू तुलना में रेपो दर में 2.5 फीसदी की बढ़ोत्तरी हो चुकी है। इसी के साथ महंगाई दर में नरमी भी देखने को मिल रही है। ऐसे में उम्मीद है कि अब दरों में कोई बढ़ोत्तरी नहीं होगी।

वहीं बैंक ऑफ महाराष्ट्र (Bnak of Maharashtra) के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर आशीष पांडे ने कहा कि केंद्रीय बैंक दरों में किसी भी तरह के बदलाव के लिए कोई रणनीति अपनाएगा. फिलहाल अनुमान लगाया जा रहा है कि दरों में कोई बदलाव नहीं किया जाएगा।

अगले हफ्ते है समीक्षा बैठक

अगले हफ्ते आरबीआई रेपो दर को लेकर समीक्षा बैठक करेगा। ये बैठक 6 जून से लेकर 8 जून तक होगी। इससे पहले आरबीआई ने 3,5 और 6 अप्रैल को समीक्षा बैठक की थी। उस बैठक में आरबीआई ने रेपो दरों को 6.5 फीसदी पर स्थिर रखने की घोषणा की थी। एक्सपर्ट्स की माने तो इस बार बैठक में कई विषयों जैसे दुनिया भर की इकोनॉमी और मॉनसून पर नजर रखी जा सकती है।