नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। बेटे आकाश अंबानी (Akash Ambani) को रिलायंस जियो (Reliance Jio Infocomm Ltd) का चेयरपर्सन बनाने के एक दिन बाद ही रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) के मालिक मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) ने एक और अहम फैसला लिया है। ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट के मुताबिक मुकेश अंबानी की बेटी ईशा अंबानी (Isha Ambani) को Reliance Industries की रिटेल यूनिट का चेयरपर्सन बनाया जाना लगभग तय है। इसकी औपचारिक घोषणा कभी भी हो सकती है।

क्या करती है रिलायंस रिटेल

रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (RRVL), रिलायंस रिटेल लिमिटेड की होल्डिंग कंपनी है, जो सुपरमार्केट संचालित करती है। यह कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स, भोजन और किराना, फैशन, आभूषण, जूते और कपड़ों में व्यापार करती है। रिलायंस रिटेल के तहत आने वाले ब्रांड्स में रिलायंस फ्रेश, रिलायंस स्मार्ट, रिलायंस स्मार्ट पॉइंट, JioMart, Reliance Digital, Jio Store, Reliance Trends, Reliance Consumer Brands, 7-Eleven, Project Eve, Trends Footwear, Reliance Jewels, AJIO और Hamleys आदि शामिल हैं।

उत्तराधिकारी की तलाश

ईशा अंबानी को रिलायंस समूह की खुदरा इकाई का अध्यक्ष बनाया जाना इस बात का एक और संकेत है कि मुकेश अंबानी उत्तराधिकार की एक सुनियोजित योजना के साथ आगे बढ़ रहे हैं। दोनों अंबानी भाई-बहन अक्टूबर 2014 से RRVL और Reliance Retail की डिजिटल शाखा JioMart के बोर्ड में हैं।

30 वर्षीय ईशा ने अमेरिका की अमेरिका की येल यूनिर्वर्सिटी से पढ़ाई की है। इन दोनों के अलावा मुकेश अंबानी के एक और बेटे अनंत हैं, जिनकी उम्र 27 साल है। रिलायंस रिटेल और रिलायंस जियो रिलायंस समूह की सहायक कंपनियां हैं। मुकेश अंबानी रिलायंस इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक हैं।

जारी है बदलाव का दौर

रिलायंस में कुछ और बदलाव देखने को मिल सकते हैं। 27 जून को हुई बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स की मीटिंग में आकाश अंबानी को रिलायंस जियो का चेयरपर्सन बनाने के फैसले पर मुहर लगी थी। इससे पहले आकाश अंबानी बोर्ड में नॉन एक्सीक्यूटिव डायरेक्टर के पद पर कार्यरत थे। एक और बड़ा बदलाव करते हुए रिलायंस जियो इनफोकॉम लिमिटेड ने पंकज पवार को अगले 5 वर्षों के लिए कंपनी का मैनेजिंग डायरेक्टर नियुक्त किया है। एडिशनल डायरेक्टर रामिंदर सिंह गुजराल और के.वी. चौधरी अब स्वतंत्र निदेशकों को तौर पर काम देखेंगे।

Edited By: Siddharth Priyadarshi