नई दिल्ली। दिग्गज कंपनियों के जोरदार तिमाही नतीजों से उत्साहित निवेशकों ने बाजार में चौतरफा लिवाली की। इससे दलाल स्ट्रीट में मंगलवार को लगातार छठे सत्र में तेजी का सिलसिला बना रहा। बंबई शेयर बाजार (बीएसई) का सेंसेक्स 310.63 अंक यानी 1.21 फीसद चढ़कर 26 हजार के मनोवैज्ञानिक स्तर को पार कर गया।

यह संवेदी सूचकांक 26,025.80 अंक पर बंद हुआ। छह सत्रों की तेजी में सेंसेक्स 1,018 अंक से ऊपर जा चुका है। सात जुलाई को यह 26,100.08 अंक के स्तर पर बंद हुआ था। इसी प्रकार नेशलन स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 83.65 अंक यानी 1.09 फीसद की बढ़त के साथ 7,767.85 अंक पर पहुंच गया।

विशेषज्ञों के अनुसार, प्रमुख आइटी कंपनियों के उम्मीद से बेहतर नतीजों ने निवेशकों का मनोबल बढ़ा दिया है। लंबे समय में विकास दर की संभावनाओं को लेकर चिंता भी घटी है। विदेशी बाजारों में तेजी के साथ मानसून की बेहतर होती स्थिति से भी घरेलू बाजार की कारोबारी धारणा को बल मिला।

तीस शेयरों वाला सेंसेक्स इस दिन 25,784.48 अंक पर मजबूत खुला। इसका निचला स्तर 25,780.39 अंक रहा। लिवाली के झोंके में यह एक समय ऊंचे स्तर 26,050.38 अंक तक पहुंच गया था। बीएसई के सूचकांकों में टेक्नोलॉजी, आइटी, तेल एवं गैस तथा कंज्यूमर ड्यूरेबल कंपनियों के शेयरों में निवेशकों ने दिलचस्पी ली। जबकि कैपिटल गुड्स और पावर कंपनियों के शेयरों को बिकवाली की मार पड़ी। सेंसेक्स की तीस कंपनियों में 25 के शेयर बढ़े, वहीं पांच में गिरावट दर्ज की गई।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप