नई दिल्ली, पीटीआइ। IIFL Securities ने Karvy Stock Broking के 11 लाख ऐसे डीमैट अकाउंट्स को एक्टीवेट करना शुरू कर दिया है, जो एक साल से अधिक समय से फ्रीज थे। IIFL Securities ने बुधवार को इस बात की जानकारी दी। कंपनी ने कहा Karvy Stock Broking के अकाउंट होल्डर्स अब IIFL Securities के प्लेटफॉर्म के जरिए ट्रेड या निवेश कर सकते हैं। IIFL Securities ने एक बयान में कहा है कि उसने Karvy Stock Broking के सभी डिमैट अकाउंट के अधिग्रहण से जुड़ी आधिकारिक निविदा हासिल कर ली है।  

निविदा प्रक्रिया फरवरी की शुरुआत में प्रारंभ हुई थी। यह प्रक्रिया पूर होने से Karvy के 11 लाख निवेशकों की परेशानियां खत्म हो गई हैं, जिनके अकाउंट्स पिछले एक साल से अधिक समय से फ्रीज पड़े हुए थे। 

Karvy के इन डीमैट अकाउंट्स का कुल एसेंट अंडर मैनेजमेंट तीन लाख करोड़ रुपये का है। 

IIFL Securities के सीईओ (रिटेल) संदीप भारद्वाज ने कहा है, ''Karvy के सभी अकाउंट होल्डर्स का स्वागत करते हुए मुझे काफी खुशी हो रही है। अब उनके अकाउंट्स आधिकारिक तौर पर अनफ्रीज हो गए हैं और IIFL Securities के साथ ट्रेडिंग या निवेश कर सकते हैं।''

उन्होंने कहा है, ''सद्भावना संकेत (गुडविल जेस्चर) के रूप में हमने ऐसे अकाउंट्स के एक साल का वार्षिक मेंटेंनेंस शुल्क माफ कर दिया है। IIFL Markets मोबाइल के जरिए पहले 30 दिन की ट्रेडिंग भी बिल्कुल मुफ्त होगी।''

IIFL Securities ने Karvy के डिमैट अकाउंटहोल्डर्स को दोबारा उनका अकाउंट शुरू में मदद करने के लिए एक वेब प्लेटफॉर्म बनाया है और एक नंबर दिया है। 

IIFL Securities के मुताबिक इस अधिग्रहण के बाद कंपनी Zerodha और Upstox के बाद डिमैट अकाउंट की संख्या के लिहाज से देश की तीसरी सबसे बड़ी ब्रोकरेज कंपनी बन जाएगी। 

IIFL Securities के पास 23 लाख से ज्यादा खुदरा ग्राहक और 500 से ज्यादा संस्थागत क्लाइंट्स हैं। कंपनी इक्विटी, कमोडिटी, करेंसी, म्यूचुअल फंड्स, फंड डिपोजिट और अन्य डेट प्रोडक्ट्स व पोर्टफोलियो मैनेजमेंट सर्विसेज में इंवेस्टमेंट सर्विसेज की पेशकश करती है। 

उल्लेखनीय है कि छह फरवरी को NSE, BSE और MSE ने एक सर्कुलर जारी कर Karvy के ट्रेडिंग और डिमैट अकाउंट्स को फॉर्मल बिडिंग प्रोसेस के जरिए अन्य ब्रोकरेज कंपनी को ट्रांसफर करने का निर्देश दिया था। 

 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021