नई दिल्ली, पीटीआइ। 'शाही लीची' और 'जर्दालु आम'। नाम सुनते ही आंखों में चमक आ जाती है, मुंह में पानी आ जाता है और मन को इन स्वादिष्ट फलों का स्वाद लिये बिना चैन नहीं आता। इसी मौसम में बाजारों में इन दोनों फलों की भरमार रहती है, खासकर बिहार के फल बाजारों में। लेकिन लॉकडाउन के कारण अभी ये फल पर्याप्त मात्रा में फल बाजारों में नहीं पहुंच पाएं हैं। फिर भी चिंता की कोई बात नहीं हैं। बिहार सरकार ने भारतीय डाक के साथ मिलकर राज्य के कुछ शहरों में इन फलों की होम डिलीवरी की तैयारी कर ली है। इससे अब शाही लीची और जर्दालु आम के शौकीन लॉकडाउन के इस समय में भी घर बैठे अपने पसंदीदा फलों का आनंद उठा सकते हैं।

 इन शहरों में होगी डिलीवरी

अभी पटना, मुजफ्फरपुर और भागलपुर शहर के लोगों को इन फलों की होम डिलीवरी मिल सकेगी। भारतीय डाक ने रविवार को यह जानकारी दी है। भारतीय डाक ने एक बयान में कहा, 'बिहार पोस्टल सर्कल ने बिहार सरकार के बागवानी विभाग के साथ एक समझौता किया है। इसके तहत मुजफ्फरपुर से शाही लीची और भागलपुर से जर्दालु आम की होम डिलीवरी लोगों तक की जाएगी।' भारतीय डाक के प्रवक्ता ने कहा कि इस खरीदारी में डिलीवरी शुल्क भी जोड़ा जाएगा। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन को देखते हुए राज्य में लीची और आम की खेती करने वाले लोगों के आग्रह पर यह समझौता हुआ है।

यह भी पढ़ें: इन बैंकों ने सीनियर सिटीजंस के लिए लॉन्च की है स्पेशल एफडी स्कीम्स, जानिए क्या हैं ब्याज दरें

यहां दे सकते हैं ऑर्डर

लोग बिहार बागवानी विभाग की वेबसाइट पर जाकर इन फलों के लिए ऑर्डर दे सकते हैं। यहां बता दें कि मुजफ्फरपुर की शाही लीची और भागलपुर का जर्दालु आम काफी प्रसिद्ध है। डाक विभाग ने बयान में कहा, 'शुरुआती दौर में शाही लीची की डिलीवरी की सुविधा मुजफ्फरपुर और पटना शहर के लोगों के लिए और जर्दालु आम की डिलीवरी की सुविधा पटना और भागलपुर के लोगों के लिए उपलब्ध है। लीची के लिए न्यूनतम दो किलो और आम के लिए न्यूनतम 5 किलो का ऑर्डर किया जा सकता है।' बयान के अनुसार, अभी तक 4,400 किलो लीची का ऑर्डर वेबसाइट पर आ चुका है और यह मात्रा इस सीजन में एक लाख किलो तक जा सकती है। बयान में बताया कि आम के लिए ऑर्डर मई के अंतिम सप्ताह में शुरू होगा।

यह भी पढ़ें: सलमान खान ने लॉन्च किया पर्सनल केयर ब्रांड FRSH, सैनिटाइजर्स से हुई शुरुआत

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस