कोलकाता, पीटीआइ। बैंकों के एकीकरण की प्रक्रिया में सरकार ने एक और कदम उठाया है। सरकार ने यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया (UBI), पंजाब नेशनल बैंक (PNB) और ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स (OBC) की विलय प्रक्रिया के लिए कुल 34 टीमों का गठन किया है। ये टीमें विलय प्रक्रिया को सुचारू और सरल बनाएंगी। न्यूज एजेंसी पीटीआइ को यूनाइटेड बैंक ऑफ कॉमर्स के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी है। अधिकारी ने बताया कि एकीकरण की प्रक्रिया के लिए समाधान पेश करने के उद्देश्य से ये टीमें बनायी गई हैं। यह विलय एक अप्रैल 2020 से लागू होगा।

यूनाइटेड बैंक ऑफ कॉमर्स के अधिकारी ने बताया है कि एक टीम में भिन्न-भिन्न कार्यक्षेत्र के 3 बैंकों से 2-2 सदस्य हैं। उन्होंने बताया कि गठित की गई ये टीमें ऋण की प्रक्रिया, ग्राहकों को मिलने वाले लाभ आदि से जुड़े समाधान देंगें, जिससे एकीकरण की प्रक्रिया सुचारू और सरल रूप से हो और आने वाले समय में ग्राहकों को समस्याओं का सामना ना करना पड़े।

गौरतलब है कि बीती 30 अगस्त को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बैंकिंग सेक्टर से जुड़ी कुछ घोषणाओं का ऐलान किया था। वित्त मंत्री ने इसमें सार्वजनिक क्षेत्र के 10 बैंकों को मिलाकर 4 बैंक बनाने की बात कही थी। वित्त मंत्री ने घोषणा की थी कि पंजाब नेशनल बैंक, ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक का एक में विलय होगा।

इसी तरह वित्त मंत्री ने कहा था कि यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, आंध्रा बैंक और कॉर्पोरेशन बैंक मिलकर एक बैंक का गठन करेंगे। इसके साथ ही वित्त मंत्री ने कहा था कि इंडियन बैंक का विलय इलाहाबाद बैंक के साथ किया जाएगा और केनरा बैंक का विलय सिंडिकेट बैंक के साथ किया जाएगा। वित्त मंत्री ने बैंकों के एकीकरण की घोषणा करते हुए इन दस बैंकों के कर्मचारियों को आश्वस्त किया था कि विलय के कारण उनकी नौकरी नहीं जाएगी।

Posted By: Pawan Jayaswal

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस