Move to Jagran APP

Github Layoffs: गिटहब ने भारत में की छंटनी, एक ही झटके में 142 कर्मचारियों को निकाला बाहर

माइक्रोसॉफ्ट के स्वामित्व वाले गिटहब ने भारत में 142 लोगों की छंटनी की है। इसमें गिटहब इंजीनियरिंग विभाग के सभी कर्मचारी शामिल हैं। कंपनी ने मंगलवार को यह जानकारी दी। इससे पहले माइक्रोसॉफ्ट ने बड़े पैमाने पर कर्मचारियों की छंटनी की थी। File Photo

By AgencyEdited By: Devshanker ChovdharyPublished: Wed, 29 Mar 2023 12:52 AM (IST)Updated: Wed, 29 Mar 2023 12:52 AM (IST)
Github Layoffs: गिटहब ने भारत में की छंटनी, एक ही झटके में 142 कर्मचारियों को निकाला बाहर
गिटहब ने भारत में 142 कर्मचारियों को निकाला बाहर।

नई दिल्ली, पीटीआई। माइक्रोसॉफ्ट के स्वामित्व वाले गिटहब ने भारत में 142 लोगों की छंटनी की है। इसमें गिटहब इंजीनियरिंग विभाग के सभी कर्मचारी शामिल हैं। कंपनी ने मंगलवार को यह जानकारी दी। इससे पहले, माइक्रोसॉफ्ट ने बड़े पैमाने पर कर्मचारियों की छंटनी की थी।

loksabha election banner

कई शहरों में छंटनी

कंपनी के फैसले से प्रभावित लोगों में बेंगलुरु, हैदराबाद और दिल्ली कार्यालयों में काम करने वाले कर्मचारी शामिल हैं। गिटहब के प्रवक्ता ने कहा कि यह निर्णय कंपनी की पुनर्गठन योजना का हिस्सा है। प्रवक्ता ने कहा, "फरवरी में साझा की गई पुनर्गठन योजना के हिस्से के रूप में, कर्मचारियों की संख्या में कटौती की गई। यह फैसला कठिन है, लेकिन आवश्यक निर्णयों के हिस्से के रूप में ली गई है।''

कंपनी ने उठाया कदम

कंपनी के एक प्रवक्ता ने बताया, ''यह अल्पावधि में हमारे व्यवसाय के स्वास्थ्य की रक्षा करने और हमें आगे बढ़ने वाली हमारी लॉन्ग-टर्म स्ट्रेटिजी में निवेश करने की क्षमता प्रदान करने के लिए कठिन लेकिन आवश्यक निर्णयों और पुनसंरचना का हिस्सा है।'' मालूम हो कि माइक्रोसॉफ्ट के स्वामित्व वाले ओपन सोर्स डेवलपर प्लेटफॉर्म ने फरवरी में घोषणा की थी कि वह कंपनी के वित्तीय वर्ष के अंत तक अपने 10 प्रतिशत कर्मचारियों की छंटनी कर रहा है।

करीब तीन हजार कर्मचारी कर रहे थे काम

छंटनी की घोषणासे पहले गिटहब में करीब 3,000 कर्मचारी थे। गिटहब के सीईओ थॉमस डोहमके ने कर्मचारियों को भेजे ईमेल में कहा कि हर कारोबार के लिए सतत विकास जरूरी है। सीईओ ने लिखा, ''आज, हम 100 मिलियन डेवलपर्स का घर हैं और हमें कल की दुनिया के लिए डेवलपर-फर्स्ट इंजीनियरिंग सिस्टम बनना चाहिए। हमें अपने ग्राहकों को गिटहब के साथ बढ़ने और फलने-फूलने में मदद करना जारी रखना चाहिए, हर दिन उनका समर्थन करते हुए उनकी क्लाउड अपनाने की यात्रा को तेज और सरल बनाना चाहिए।''

उन्होंने कहा, ''दुर्भाग्य से, इसमें ऐसे बदलाव शामिल होंगे, जिसके चलते वित्त वर्ष 2023 के अंत तक गिटहब के कर्मचारियों की संख्या में 10 प्रतिशत तक की कमी आएगी। मैंने 18 जनवरी को जो हायरिंग रोकने की घोषणा की थी, वह प्रभावी है।'' ओपन सोर्स डेवलपर प्लेटफॉर्म विश्व स्तर पर 100 मिलियन सदस्यों तक पहुंच गया है और भारत में भी तेजी से बढ़ रहा है, जहां इसने प्लेटफॉर्म पर 10 मिलियन डेवलपर्स को पार कर लिया है।

 


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.