नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। देश के सबसे बड़े ऋणदाता भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने बेंचमार्क प्राइम लेंडिंग रेट में 70 बेसिस पॉइंट की बढ़ोतरी कर दी है। एसबीआई की वेबसाइट पर पोस्ट की गई जानकारी के अनुसार संशोधित दर अब 13.45 फीसद हो गई है। नई दर आज से लागू कर दी गई है।

प्राइम लेंडिंग रेट (बीपीएलआर) में बढ़ोतरी के अलावा बैंक ने भी आधार दर को भी बढ़ाकर 8.7 प्रतिशत कर दिया है, जो आज से प्रभावी है। बेस रेट पर कर्ज लेने वाले कर्जदारों की ईएमआई राशि बढ़ जाएगी।

आपकी ईएमआई पर क्या होगा असर

इस बढ़ोतरी के बाद बेंचमार्क प्राइम लेंडिंग रेट (बीपीएलआर) 15 सितंबर, 2022 से 13.45 प्रतिशत हो जाएगी। इससे बीपीएलआर से जुड़े कर्ज का रीपेमेंट महंगा हो जाएगा। यानी एसबीआई से लिए गए आपके कर्ज की ईएमआई बढ़ जाएगी। इससे पहले बैंक की बेंचमार्क प्राइम लेंडिंग रेट (बीपीएलआर) 12.75 फीसदी थी। पिछली बार जून में इसे संशोधित किया गया था।

आरबीआई की बैठक से पहले लिया गया फैसला

बैंक तिमाही आधार पर बीपीएलआर और आधार दर दोनों में संशोधन करता है। एसबीआई द्वारा उधार दर में संशोधन किए जाने के बाद आने वाले दिनों में संभावना है कि अन्य बैंक भी ऐसा कर सकते हैं। बता दें कि एसबीआई ने अपनी बेंचमार्क उधार दरों में वृद्धि भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) की मौद्रिक नीति बैठक से कुछ हफ्ते पहले ही की है।

आरबीआई की इस बैठक में मुद्रास्फीति पर काबू पाने के लिए दरों में फिर से बढ़ोतरी की उम्मीद है। तय कार्यक्रम के मुताबिक, अगली तीन दिवसीय मौद्रिक नीति बैठक 28 सितंबर से 30 सितंबर के बीच होगी।

एसबीआई के शेयरों में मजबूती

बुधवार के कारोबार में एनएसई पर एसबीआई के शेयर 3% के करीब बढ़कर 574.7 रुपये प्रति शेयर के रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंच गए। बीएसई पर बिकवाली के दबाव के बावजूद स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के शेयरों ने 574.65 रुपये की ऊंचाई हासिल की। मार्केट के ट्रेंड को देखते हुए अनुमान लगाया जा रहा है कि आने वाले दिनों में एसबीआई के शेयर और मजबूत हो सकते हैं।

Edited By: Siddharth Priyadarshi