नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। सरकारी बैंक इंडियन बैंक की ओर से ब्याज दरों में इजाफा कर दिया गया है। बैंक ने एमसीएलआर में 25 आधार अंक या फिर 0.25 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी की है। बैंक ने ब्याज दरों में इजाफा ऐसे समय पर किया है, जब रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने पिछले महीने रेपो रेट को 35 आधार अंक या फिर 0.35 प्रतिशत बढ़ाकर 6.25 प्रतिशत कर दिया था।

बैंक की ओर से शेयर बाजार को दी गई सूचना में कहा गया कि मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड्स बेस्ड लेंडिंग रेट (MCLR), ट्रेजरी बिल्स लिंक्ड लेंडिंग रेट्स (TBLR), बेस रेट और बेंचमार्क प्राइम लेंडिंग रेट (BPLR) की समीक्षा की गई है, जिसके बाद इसे बढ़ने का फैसला किया गया है। बता दें, अलग- अलग अवधि की MCLR, TBLR, BPLR और बेस रेट का उपयोग ऑटो , पर्सनल और होम लोन देने के लिए किया जाता है। इसमें बढ़ोतरी होने से ईएमआई में इजाफा हो सकता है।

8.30 प्रतिशत हुआ MCLR

बैंक ने बताया कि ओवरनाइट MCLR 25 आधार अंक बढ़ाकर 7.75 प्रतिशत कर दिया गया है, जबकि छह माह की अवधि का MCLR में 20 आधार अंक की बढ़ोतरी की गई है। वहीं, एक साल का MCLR 8.20 प्रतिशत बढ़ाकर 8.30 प्रतिशत कर दिया गया है।

इसके साथ अलग-अलग अवधि की TBLR को 6.40 प्रतिशत से बढ़ाकर 6.85 प्रतिशत कर दिया है। वहीं, बेस रेट को 25 आधार अंक बढ़ाकर 9.10 प्रतिशत और BPLR को बढ़ाकर 13.35 प्रतिशत कर दिया है।

RBI ने पांच बार बढ़ाई रेपो रेट

2022 में महंगाई को काबू करने के लिए आरबीआई ने रेपो रेट में पांच बार वृद्धि की थी। ये वृद्धि मई, जून, अगस्त, सितंबर और दिसंबर में की गई थी। इस वजह से रेपो रेट 2.25 प्रतिशत बढ़कर 6.25 प्रतिशत पर आ गया है, जो कि पहले 4.00 प्रतिशत पर था।

(एजेंसी इनपुट के साथ)

ये भी पढ़ें-

सरकार ने कच्चे तेल, ATF समेत Diesel पर बढ़ाया Windfall Tax, पेट्रोल-डीजल के रेट पर क्या होगा असर

इन तरीकों को अपनाकर 2023 में बचा सकते हैं Tax, क्रेडिट स्कोर भी होगा बेहतर

 

Edited By: Abhinav Shalya

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट