बेतिया। कोरोना वायरस के संक्रमण से निपटने के लिए तैयारियों का जायजा के मद्देनजर गुरुवार को जेल में हुए मॉक ड्रिल का वीडियो वायरल हो गया। वीडियो कई वाट्सएप ग्रुप में चलने लगा। शुक्रवार को वीडियो वायरल होते ही शहर में हड़कंप मच गया। लोगों में भय व्याप्त हो गया कि कोरोना वायरस बेतिया को भी अपने गिरफ्त में ले लिया। सच्चाई जानने के लिए मीडिया कर्मियों सहित लोगों की फोन की घंटियां घनघनाने लगी। हालांकि जब लोगों को पता चला कि जेल का कोई सिपाही कोरोना से संक्रमित नहीं हुआ है। वायरल वीडियो मॉक ड्रिल का है, तो लोगों ने राहत की सांस ली। हालांकि जेल प्रशासन ने इसे गंभीरता से लिया है। जेल सुपरिटेंडेंट रामाधार सिंह ने बताया कि इसकी जांच की जा रही है कि वीडियो कैसे वायरल हुआ? जेल सुपरिटेंडेंट ने बताया कि आईजी के निर्देश पर गुरुवार को कोरोना संक्रमण से बचाव की तैयारी की जायजा के लिए जेल में मॉक ड्रिल किया गया। इस तरह का मॉक ड्रिल पूरे बिहार के जेल में किया गया है। इसके तहत कोरोना संक्रमण के लक्षण पाए जाने पर उपचार के लिए जेल में क्या तैयारियां हुई है, इसका जायजा लिया गया। आपात स्थिति में कैसे निपटेंगे मॉक ड्रिल के माध्यम से जांचा-परखा गया। उन्होंने बताया कि जेल में सब कुछ ठीक है। कैदी से लेकर जेल में काम करने वाले सभी कर्मी पूरी तरह स्वस्थ्य है।

------------------------

आईजी के निर्देश पर जेल में मॉक ड्रिल किया गया है। इसके तहत कोरोना संक्रमण से बचाव की तैयारियों का जायजा लिया गया। इसका वीडियो कैसे वायरल हुआ है इसकी जांच की जा रही है। दोषियों पर कार्रवाई होगी।

रामाधार सिंह

अधीक्षक, मंडलकारा, बेतिया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस