बेतिया । नौतन प्रखंड के भगवानपुर गांव के समीप गंडक नदी में रामनाथ यादव के घाट पर हादसे में लापता दो किशोरी समेत ट्रैक्टर चालक की तीसरे दिन भी कोई सुराग नहीं मिली। दिनभर रेस्क्यू करने के बाद शुक्रवार की शाम में एनडीआरएफ की टीम बैरंग वापस लौट गई। लापता ट्रैक्टर चालक गोपालगंज के खेम मटियनिया गांव निवासी इंद्रजीत यादव समेत नौतन के भगवानपुर निवासी नंदलाल यादव की पुत्री पुनीता कुमारी (14) एवं सत्यनारायण यादव की पुत्री सरोज कुमारी (12) के स्वजनों का रो रोकर बुरा हाल है। अंचलाधिकारी भास्कर के साथ मेडिकल टीम में चिकित्सक डॉ अमरेश सिंह, स्वास्थ्य प्रबंधक सहित कर्मी विश्वजीत कुमार, मुकेश कुमार सहित एनडीआरएफ की टीम लौट गई। सीओ ने बताया कि एनडीआरएफ की रेस्क्यू टीम ने करीब पांच किमी तक की एरिया में गंडक नदी में लापता लोगों की खोज की। लेकिन कहीं कोई सुराग नहीं मिली है। संभावना व्यक्त की जा रही है कि पानी के तेज बहाव में शव बहुत आगे निकल गया है।

--------------------------------

दुर्घटना में नाविक और लापता ट्रैक्टर चालक पर केस

बीते 19 जनवरी को हुई दुर्घटना मामले में सीओ ने नौतन थाने में नाविक और ट्रैक्टर चालक के खिलाफ कांड दर्ज कराया है। दोनों की लापरवाही उजागर हुई है। सीओ ने बताया कि नौतन प्रखंड के विशम्भरपुर छरकी के नाविक कैलास मांझी व गोलापगंज के खेम मटियनिया गांव के लापता ट्रैक्टर चालक इन्द्रजीत यादव को नामजद किया गया है। आरोप है कि नाविक कैलाश मांझी घाट पर नाव खड़ा कर खाना खाने चला गया। वहीं ट्रैक्टर चालक नाव पर ट्रैक्टर - ट्राली चढ़ाने के बाद चाबी नहीं निकला। इस वजह से यह दुघर्टना हुई। इन दोनों की लापरवाही से दो महिलाओं की मौत हो गई। एक अभी भी अस्पताल में भर्ती है। जबकि दो किशोरियों समेत ट्रैक्टर चालक खुद लापता है। गोपालगंज के रामदुलार यादव की बाइक भी डूब गई है।

---------------------------------------------- गंडक नदी में अवैध घाटों की बन रही सूची, होगी कार्रवाई बीते 19 जनवरी को भगवानपुर में गंडक नदी के रामनाथ यादव घाट पर दुर्घटना के बाद अधिकारियों की बेचैनी बढ़ी है। नाव दुर्घटना को रोकने के लिए डीएम कुंदन कुमार ने सख्त आदेश दिया है। डीएम के आदेश पर जिले में संचालित अवैध घाटों की सूची बनाई जा रही है। डीएम ने जिले के सभी अंचल के सीओ को अवैध घाटों को चिन्हित कर सूची देने को कहा है। नौतन से लेकर बैरिया प्रखंड में करीब आधा दर्जन घाट अवैध रूप से संचालित हैं । घाटों पर नाव भी गैर सरकारी है। अवैध रूप से ओवरलोडिग कर नावों का संचालन किया जाता है। शुक्रवार को नौतन के सीओ भास्कर ने गंडक नदी में संचालित घाटों का जायजा लिया। सीओ ने बताया कि सभी अवैध रूप से संचालित घाटों की जांच कर उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उधर, घाटों की प्रशासनिक जांच आरंभ होने से संचालकों में हड़कंप है।

Edited By: Jagran