Move to Jagran APP

Akshaya Tritiya 2024: अक्षय तृतीया पर बन रहा विशेष योग, मां लक्ष्मी और भगवान विष्णु की करें पूजा, होगी कृपा; बरसेगा धन

हिंदू धर्म में अक्षय तृतीया का विशेष महत्व है। इस बार अक्षय तृतीया का पर्व शुक्रवार को विशेष संयोग में मनाया जाएगा। आचार्य पंडित उमाशंकर पांडेय ने बताया कि वैशाख में शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनाया जाने वाला अक्षय तृतीया का दिन मां लक्ष्मी के लिए विशेष है। इस दिन मां लक्ष्मी और भगवान विष्णु की विशेष पूजा करनी चाहिए।

By Anshuman Kumar Edited By: Mohit Tripathi Published: Thu, 09 May 2024 06:03 PM (IST)Updated: Thu, 09 May 2024 06:03 PM (IST)
अक्षय तृतीया पर बन रहा विशेष योग, मां लक्ष्मी और भगवान विष्णु की करें विशेष पूजा।

जागरण संवाददाता, सिवान। Akshaya Tritiya 2024 हिंदू धर्म में अक्षय तृतीया का सभी के जीवन में विशेष महत्व है। अक्षय तृतीया का पर्व शुक्रवार को विशेष संयोग में मनाया जाएगा।

आचार्य पंडित उमाशंकर पांडेय ने बताया कि वैशाख माह के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनाए जाने वाले अक्षय तृतीया का दिन विशेषकर मां लक्ष्मी की पूजा को समर्पित है।

माता लक्ष्मी और भगवान विष्णु की पूजा विधि अनुसार, करने से व्यक्ति को धन-संपदा की कमी नहीं होगी। साथ ही अपार सुख की भी प्राप्ति होगी। उन्होंने बताया कि इस दिन सोना व चांदी की खरीदारी करना शुभ होता है।

बन रहा विशेष योग

इस बार अक्षय तृतीया पर गजकेसरी राजयोग, सुकर्मा योग और रवि योग बन रहा है। ऐसे में ये तिथि सभी के लिए लाभदायक रहने वाली है।

आचार्य ने बताया कि मां लक्ष्मी व भगवान विष्णु की पूजा के लिए शुभ मुहूर्त सुबह 5 बजकर 33 मिनट से दोपहर 12 बजकर 17 मिनट तक का है।

वहीं खरीदारी के लिए पूरा दिन शुभ है। सोना एवं चांदी की खरीदारी दोपहर 12 बजकर 15 मिनट के बाद करने से शुभकारी होगा।

सोने व चांदी की खरीदारी करना शुभ

मान्यता है कि इस दिन सोने व चांदी से बने आभूषण खरीदना बहुत ही शुभ है। कहा जाता है कि अक्षय पत्र में जिस तरह भोजन खत्म नहीं हुआ था, इसी तरह इस दिन दान पूर्ण करने वाले लोगों के पास धन संपदा की कमी नहीं होती।

इस दिन माता लक्ष्मी और भगवान विष्णु की पूजा करने से अपार सुख और धन संपदा की प्राप्ति होती है। अक्षय तृतीया के दिन नदियों पर स्नान करने की भी एक परंपरा है।

यह भी पढ़ें: Akshaya Tritiya 2024: क्यों मनाया जाता है अक्षय तृतीया का त्योहार, हिंदू धर्म में क्या है इसका महत्व?

Vivah Muhurat 2024: साल 2024 में कब-कब बजेगी शहनाई, यहां देखें शुभ विवाह मुहूर्त की पूरी लिस्ट

भागलपुर में खुली सेंट्रल बैंक आफ इंडिया की महिला शाखा, मिलेगी ये सुविधा, इस लोकेशन पर है बैंक


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.