Move to Jagran APP

Bihar Flood News: सीतामढ़ी में रौद्र रूप दिखा रही झीम नदी, दर्जनों गांवों का टूटा संपर्क; आफत में लोगों की जान

Jhim River Flood बिहार के सीतामढ़ी (Sitamarhi Flood) में झीम नदी मानसून के पहली बारिश (Bihar Monsoon Rain) के साथ ही अपना रौद्र रूप दिखाने लगी है। मानसून की पहली बारिश से ही नदी के जलस्तर में भारी बढ़ोतरी दर्ज की गई। भारी बारिश के कारण दर्जनों गांवों का संपर्क टूट गया है। अचानक आई इस बाढ़ के कारण भारत-नेपाल सीमा पर भी सैंकड़ों को लोग फंस गए।

By Mukesh Kumar Edited By: Mohit Tripathi Sat, 29 Jun 2024 09:28 AM (IST)
सीतमामढ़ी में झीम नदी के रौद्र रूप ने लाई आफत। (जागरण फोटो)

संवाद सहयोगी, सोनबरसा। मानसून से पहले सीमाई इलाकों में धरती तप रही थी। पानी के लिए लोग तरस रहे थे। मानसून की पहली बारिश के साथ ही तपती धरती की प्यास झीम नदी में आई बाढ़ ने बूझा दी है। बीते 48 घंटे में हुई भारी बारिश से ही झीम नदी का जलस्तर अपने उफान पर है।

पानी का कहर ऐसा है कि सीमामढ़ी स्थित भारत-नेपाल सीमा पर सैकड़ों लोग फंस गई हैं। हालांकि, कई पानी की तेज धार के बीच जान जोखिम में डालकर एक-दूसरे देश की सीमा लांघ रहे हैं।

सीतामढ़ी जिले में भारत-नेपाल बॉर्डर स्थित हनुमान चौक चेक पोस्ट पर बाढ़ के पानी का बहाव तेज है। दोनों देशों के सैंकड़ों नागरिक सीमाई इलाकों में फंसे हैं। अचानक आई बाढ़ से लोगों में अफरातफरी मची है। लोग अपने-अपने देश में जाने के लिए व्याकुल हैं।

दर्जनों गांवों से टूटा मुख्यालय का संपर्क 

इधर, सोनबरसा मुख्यालय का सड़क संपर्क नेपाल से और भारतीय क्षेत्र के दर्जनों गांव से भंग हो चुका है। झीम नदी पर बसतपुर के पास निर्माणाधीन पुल के निकट पहले ही बाढ़ में ह्यूम पाइप लगाकर बनाया गया डायवर्सन ध्वस्त हो चुका है। जहां लोहे का पतली पाइप रखकर लोग आवाजाही कर रहे थे, पानी के बहाव में वह भी बह चला है।

इन गांवों का संपर्क भंग

सोनबरसा का बसतपुर, हरिहरपुर, चक्की, मयूरवा, इंदरवा, दलकावा, सहोरवा,रा जवाड़ा, मुसहरनिया सहित कई गांवों का सड़क संपर्क भंग हो चुका है।

ग्रामीण इलाकों में फैल रहा पानी

ग्रामीण इलाकों में भी अब पानी फैलने लगा है। कई जगह से सूचना आ रही है कि पानी सड़क पर चढ़ने की स्थिति में है। वहीं खाप खोपराहा की तरफ लखनदेई में भी पानी बढ़ रहा है, जबकि सोनबरसा में लालबंदी पथ पर पानी चढ़ चुका है।

लोगों को डर है कि कहीं नदी का यह उफान इसी तरह जारी रहा तो आने वाले समय में और भी भयावह स्थिति उत्पन्न हो सकती है। हालांकि लगातार झीम नदी का जलस्तर बढ़ रहा है।

यह भी पढ़ें: Bihar Weather Today: अगले 72 घंटे में बिहार के कई इलाकों में भारी बारिश के आसार, जानें क्या है IMD का नया अपडेट

Bihar Flood News: रफ्तार में नदियां, बिहार के इस जिले में बढ़ा बाढ़ का खतरा; ये है विभाग की तैयारी