मशरक, सारण। छपरा-थावे रेलखंड पर मशरक जंक्शन के दक्षिणी ऑउटर सिग्नल के आगे बुधवार की मध्य रात्रि में चोरों ने लाखों रुपये कीमत के तांबे के तार की चोरी कर ली। तार मशरक से छपरा के बीच हो रहे विद्युतीकरण कार्य के लिए रखे गए थे।

चोरों ने बुधवार की रात मशरक छपरा रेल खंड पर मशरक तरैया एसएच-73 रेल ढ़ाला से आगे किलोमीटर 39/1- 40 के पास तीन पोल से तांबे का तार काट लिया। इस रेलखंड पर विद्युतीकरण का कार्य चल रहा है। तार की सुरक्षा के लिए निगेटिव बिजली सप्लाई रहती है, जिससे चोरों द्वारा तार काटने के दौरान स्टेशन पर खड़ी ओएचई निरीक्षण यान में लगा सायरन बजने लगा। हालांकि सायरन के बजने का लाभ नहीं मिला। सायरन बजने पर इसकी सूचना मशरक जंक्शन पर तैनात आरपीएफ को दी गई। आरपीएफ के अधिकारी जवानों के साथ घटनास्थल पहुंचे। लेकिन उससे पहले ही चोर बिजली के तार लेकर अंधेरे का फायदा उठाकर गायब हो गए थे। मशरक आरपीएफ प्रभारी ने चोरी की सूचना छपरा रेल इंस्पेक्टर अनिरुद्ध राय को दी। घटना की सूचना पाकर इंस्पेक्टर राय दल बल के साथ श्वान दस्ता लेकर मौके पर पहुंचे और खोजबीन शुरू कर दी। गुरुवार की सुबह तरैयां थाना क्षेत्र अंतर्गत गलिमापुर चंवर में जलकुंभी से भरे हुए पानी के बीच छुपाकर रखे तार सहित तार काटने के काम में प्रयुक्त बड़े साइज के कटर को आरपीएफ की टीम ने बरामद कर लिया। बताया गया कि चोरी हुए तांबे के तार का अभी आधा हिस्सा ही बरामद किया गया है। शेष तार को बरामद करने के लिए खोजबीन जारी है। मामले में छपरा रेल इंस्पेक्टर अनिरुद्ध राय ने बताया कि मशरक आरपीएफ टीम की तत्परता से कार्रवाई करते हुए तार को बरामद किया गया है। अभी छापेमारी अभियान जारी है।

Edited By: Jagran